1 अप्रैल से यूनिफार्म में आऐंगे शिक्षक: शिक्षा मंत्री विजय शाह

शिवपुरी। स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने कहा कि प्रदेश में पहली बार जिला मुख्यालय पर प्रत्येक उत्कृष्ट एवं मॉडल विद्यालयों के सभी वर्गों के बालक-बालिकाओं के लिए छात्रावास की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी। यह व्यवस्था 01 अप्रैल 2018 से शुरू होगी। इन छात्रावासों के भवनों के निर्माण पर 01-01 करोड़ की राशि व्यय की जाएगी। भवन पूर्ण न होने तक छात्र-छात्राओं को किराए के भवन में रहकर अपना अध्ययन कर सकेंगे। इन छात्रा-छात्राओं को 1500 रूपए शिष्यवृत्ति के रूप में भी प्रदाय की जाएगी। यह व्यवस्था आने वाले समय में विकासखण्ड स्तर पर भी शुरू की जाएगी। 

स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह आज उक्त आशय की जानकारी शिवपुरी जिले के शा. उत्कृष्ट विद्यालय कोलारस में शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं प्राचार्यों की बैठक में दी। बैठक में संयुक्त संचालक शिक्षा श्री अरविंद सिंह, जिला शिक्षा अधिकारी श्री पी.एस.गिल, सर्वशिक्षा अभियान के जिला परियोजना समन्वयक श्री शिरोमणी दुबे सहित जिले के हायर सेकेण्डरी एवं हाईस्कूल के प्राचार्यगण उपस्थित थे। 

कुंवर विजय शाह ने कहा कि प्रदेश में ऐसे हाईस्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल जो भवन विहीन है। प्रथम चरण में हायर सेकेण्डरी स्कूलों को भवन निर्माण हेतु डेढ़ करोड़ की राशि प्रदाय की जाएगी। जबकि द्वितीय चरण में 01 करोड़ की राशि से हाईस्कूल भवनों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने संबंधित प्राचार्यों को निर्देश दिए कि उनके विद्यालय जो भवनविहीन है, वे अपने प्रस्ताव भेजें। 

प्रदेश में 500 नए हायर सेकेण्डरी एवं हाईस्कूल खुलेंगे
कुंवर विजय शाह ने कहा कि प्रदेश में 500 नए हायर सेकेण्डरी एवं हाईस्कूल खोले जाकर शिक्षकों के पद भी स्वीकृत किए जाएगें। प्राचार्यों को अतिथि शिक्षक रखने के भी अधिकार दिए जा रहे है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में स्कूलों में बिजली कनेक्शन हेतु 30 करोड़ की राशि स्वीकृत की गई है। उन्होंने करैरा के मॉडल स्कूल में फेसिंग कराने के और बालिका छात्रावास बैराड़ में विद्युत कनेक्शन लेने के निर्देश दिए। 

मंत्री महोदय ने कहा कि ऐसे माध्यमिक विद्यालय जिनके द्वारा बेहतर परीक्षा परिणाम एवं व्यवस्थाए ठीक रही है, प्रत्येक विकासखण्ड के एक-एक विद्यालयों को फर्नीचर उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए प्रदेश में 30 करोड़ की राशि की व्यवस्था की गई है, जिससे बच्चे नीचे टाठपट्टियों पर न बैठे। उन्होंने कहा कि हाईस्कूल एवं हायरसेकेण्डरी स्कूलों में प्रकाश की व्यवस्था हेतु 25 करोड़ की राशि की व्यवस्था की गई है। 

शिक्षा मंत्री ने प्राचार्यों को संबोधित करते हुए कहा कि वे सुनिश्चित करें कि प्रत्येक स्कूल में राष्ट्रीय ध्वजारोहण होने के साथ-साथ छात्र-छात्राए शिक्षक एवं शिक्षिकाओं को ‘‘यश सर एवं यश मैडम’’ के स्थान पर ‘‘जयहिंद’’ कर उनका अभिवादन करें। उन्होंने कहा कि इससे जहां बच्चों में राष्ट्रप्रेम की भावना जाग्रह होगी। उन्होंने प्राचार्यों को निर्देश दिए कि उनके विद्यालयों की भूमि, खेल मैदानों पर हुए अतिक्रमणों को संबंधित क्षेत्र के अनुविभागीय अधिकारी(राजस्व) से चर्चा एवं समन्वय कर हटाने की कार्यवाही कराए। 

एक अप्रैल से शिक्षक यूनिफार्म में आएगें
एक अप्रैल से शिक्षकों को यूनिफार्म में स्कूलों में पहुंचेगे। जिससे शिक्षकों में भी एकरूपता बनी रहे। श्री शाह ने कहा कि प्रदेश में पहली बार शिक्षकों के स्थानांतरण ऑनलाइन किए गए है। शीघ्र ही प्राचार्यों के स्थानांतरण एवं पदोन्नति की भी कार्यवाही की जाएगी। शिक्षकों की भर्ती कर रिक्त पदों की पूर्ति की जाएगी। 
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------