युवाओं का अपने एतिहासिक स्थलों की जानकारी होना चाहिये: अशोक मोहते

शिवपुरी। नेहरू युवा केन्द्र संगठन द्वारा सम्पूर्ण देश में अपने युवा मण्डलों व महिला मण्डल  स्वयं सेवकों के सहयोग से दिनांक 5 अक्टूबर से 25 अक्टूबर 2017 तक पर्यटन पर्व मनाया जा रहा है इसी क्रम में नेहरू युवा केन्द्र के युवा मण्डल पदाधिकारियों व स्वयं सेवकों को जानकारी देते हुये एतिहासिक सिंधिया छत्री ट्रस्ट के प्रभारी अशोक मोहते ने कहा कि युवाओं को अपने एतिहासिक स्थलों की जानकारी होना चाहिये। आज का युवा अपने पुरातत्व महत्व के स्थलों के बारे में भूलता जा रहा है उसे आज के युवाओं को अपने स्वयं के क्षेत्र एतिहासिक सिलों के बारे में भी जानकारी का अभाव है। 

जबकि हमारा देश प्राचीनतम देश है जहां स्थान स्थान पर महत्वपूर्ण महत्व के स्थल है श्री मोहते ने कहा कि शिवपुरी क्षेत्र में जहा बाणगंगा महाभारत काल के समय की है तो नरवर का किला राजा नल के समय का है इसी प्रकार सिंधिया घराने की छत्री पूरे विश्व में विख्यात है इसके अलावा अनेक जल प्रपात व गढी आदि यहां मौजूद है युवाओं को चाहिये कि इनके बारे में जानकारी प्राप्त कर लोगों को बतलाये व जिससे देश में शिवपुरी जिले के पर्यटन स्थलों की जानकारी पहुंचे। इससे पूर्व जिला युवा समन्वयक विनोद चतुर्वेदी ने कहा कि नेहरू युवा केन्द्र शिवपुरी 5 अक्टूबर से 25 अक्टूबर तक पर्यटन पर्व मना रहा है जिसके अन्तर्गत सांस्कृतिक कार्यक्रम खेलकूंद, गोष्ठी, रेली व एतिहासिक स्थलों का भ्रमण स्वयं सेवकों व युवा मण्डलों के पदाधिकारियों के सहयोग से आयोजित किये जायेंगे। 

श्री चतुर्वेदी ने कहा कि आज युवाओं को हमारे महा पुरूषों व महान पर्यटक स्थलों से जुड़ी गाथाओं की जानकारी होना आवश्यक है इसका प्रयास इस दौरान नेहरू युवा केन्द्र द्वारा किया जाएगा। राजेन्द्र विजयवर्गीय  ने  कहा कि आज भी हमारा शिवपुरी शहर देश के पर्यटक स्थलों के रूप में जाना जाता है हमें चाहिये कि हम  जिले के एतिहासिक धरोहरों के रखरखाव में सरकार का सहयोग करें। इस भ्रमण कार्यक्रम में  वीरांगना महिला मण्डल अध्यक्ष श्रीमती बबीता कुर्मी, युवा मण्डल ऐंचवाडा अध्यक्ष प्रदीप शर्मा, युवा मण्डल सहीसपुरा अध्यक्ष मुकेश शाक्य, दीपक बाथम, स्वयं सेवक वीर सिंह जाटव, कुमारी कृति गौतम, कुमारी सोनिका दांतरे  कुमारी नीलम लोधी योगेश शाक्य, धर्मेन्द्र जाटव, दाताराम जाटव आदि उपस्थित थे इस अवसर पर प्राचीन स्थल सिद्ध बाबा प्रांगण की सफाई युवाओं द्वारा की गई।  
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------