Saturday, August 12, 2017

जन्माष्टमी पर कालिया मर्दन मंदिर और गीता भवन का यशोधरा राजे करेंगी शुभांरभ

शिवपुरी। पुरानी शिवपुरी स्थित ऐतिहासिक महत्व के प्राचीन कालिया मर्दन मंदिर का कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया के प्रयासों से कायाकल्प होना शुरू हो गया है। यशोधरा राजे ने अपने धर्मस्व विभाग की मदद से मंदिर का पुन: निर्माण कार्य कराना शुरू किया है। वहीं 25 लाख  रूपए की लागत से कालिया मर्दन मंदिर के प्रांगण में बने नवनिर्मित राजमाता विजयाराजे सिंधिया गीता भवन का लोकार्पण यशोधरा राजे सिंधिया 15 अगस्त जन्माष्टमी को दोपहर 1:30 बजे करेंगी। इस आयोजन को भव्य बनाने के प्रयास शुरू हो गए हैं। कार्यक्रमों को अंतिम रूप भाजपा नेता तेजमल सांखला, संजय गौतम और कपिल जैन दे रहे हैं। इस अवसर पर भजनों की सुंदर प्रस्तुति की जाएगी।

जानकारी के अनुसार पुरानी शिवपुरी में कालिया मर्दन मंदिर काफी पुराना है, लेकिन मंदिर के जीर्णोद्धार की ओर कभी किसी का ध्यान नहीं गया, लेकिन स्थानीय विधायक और प्रदेश सरकार की मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने धर्मस्व विभाग की मंत्री बनने के बाद इस मंदिर के जीर्णोद्धार को अपने हाथों में लिया। कालिया मर्दन मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण की सुंदर श्यामल प्रतिमा है जो प्रत्येक का मन मोह लेती है।

मंदिर काफी जीर्णशीर्ण हालत में था और मंदिर परिसर में कूड़ाघर बना हुआ था। जहां आसपास के लोग कचरा डालते थे, लेकिन यशोधरा राजे की नजर जब इस मंदिर पर पड़ी तो मंदिर का पुनरूत्थान शुरू हो गया। मंदिर को जहां आकर्षक रूप देने का प्रयास किया जा रहा है वहीं मंदिर परिसर में विशाल और भव्य गीता भवन का निर्माण पूूर्ण हो गया है। 14 अगस्त को यशोधरा राजे गीता भवन को लोकार्पित करेंगी। इस अवसर पर भक्ति और सांस्कृतिक रंग में डूबे कार्यक्रम भी  आयेाजित भी किए जाएंगे। 

जिनका प्रभारी अरूण अपेक्षित और गिरीश मिश्रा मामा को बनाया गया है। आज आयोजन समिति के संजय गौतम और तेजमल सांखला कालिया मर्दन मंदिर पहुंचे जहां उन्होंने गीता भवन का निरीक्षण किया और 15 अगस्त जन्माष्टमी को होने वाले कार्यक्रमों को अंतिम रूप दिया। जन्माष्टमी पर मंदिर में प्रसाद वितरण का कार्यक्रम भी आयोजित किया जा रहा है। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।