Thursday, August 10, 2017

संंस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग के प्रमुख सचिव ने प्राचीन स्वरूप देकर आकर्षक बनाने के दिए निर्देश

शिवपुरी। शिवपुरी के मंदिरों में किए जा रहे नए निर्माण कार्यों को प्राचीन स्वरूप दिया जाकर आकर्षक बनाया जाए। निर्माण कार्य की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए। संस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व विभाग के प्रमुख सचिव मनोज श्रीवस्तव ने आज अधिकारियों के साथ शिवपुरी शहर के मंदिरों का भ्रमण कर जायजा लिया। प्रमुख सचिव मनोज श्रीवास्तव द्वारा आज शहर के नवगृह मंदिर, इच्छापूर्ण हनुमान मंदिर, सत्यनारायण मंदिर, ऊॅं नम:शिवाय मंदिर, खेड़ापति मंदिर, कालियामर्दन मंदिर, चित्रगुप्त मंदिर, गोरखनाथ मंदिर एवं सिद्धेश्वर मंदिर का निरीक्षण किया। 

प्रमुख सचिव मनोज श्रीवास्तव ने कहा कलेक्टर तरूण राठी प्रबंधक के रूप में मंदिरों में संचालित निर्माण कार्य का समय-समय पर निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि मंदिरों से संबंधित न्यायालयों में लंबित प्रकरणों का शासन स्तर पर निपटारा कराए। उन्होंने कालियामर्दन मंदिर के समस्त निर्माण कार्य पूर्ण होने पर जन्माष्टमी के अवसर पर शुभारंभ कराने के अधिकारियों को निर्देश दिए। श्री श्रीवास्तव ने मंदिरों में किए जा रहे निर्माण कार्यों, आसपास स्थित मैदानों, रिक्त स्थानों, मंदिर की जमीनों का अवलोकन किया। 

उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि मंदिर परिसर या मंदिर के आसपास अतिक्रमकों द्वारा किए गए कब्जों को तुरंत हटवाए। श्री श्रीवास्तव ने कहा कि मंदिरों को योगा एवं बौद्धिक एवं सामाजिक गतिविधियों से भी जोड़े। भ्रमण कार्यक्रम के दौरान कलेक्टर तरूण राठी, अनुविभागीय अधिकारी शिवपुरी रूपेश उपाध्याय, तहसीलदार शिवपुरी यू.सी.मेहरा सहित अधिकारीगण उपस्थित थे। इस मौके पर प्रमुख सचिव मनोज श्रीवास्तव एवं कलेक्टर तरूण राठी का सेवा समिति सिद्धेश्वर के सदस्य  गिरीश मिश्रा द्वारा शॉल, श्रीफल एवं पुष्पहार से स्वागत किया।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।