Saturday, August 12, 2017

राठौर समाज : कोई नाचा तो कोई बना भगत सिंह, किसी ने रचाई

शिवपुरी। राष्ट्रवीर दुर्गादास जयंती के उपलक्ष्य में आज मानस भवन में राठौर युवा जागृतिमंच तथा सकल पंच राठौर समाज व राठौर समाजसेवी संस्था के संयुक्त तत्वाधान में सांस्कृतिक समारोह आयोजित किया गया। समारोह में विभिन्न प्रकार की प्रतियोगितायें जिसमें डांस प्रतियोगिता, फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता, मेंहदी प्रतियोगिता, रंगोली प्रतियोगिता, गायन प्रतियोगिता आयोजित की गई। जिसमें समाज के बच्चों ने बढ़ चढ़ कर भाग लिया और अपनी प्रतिभा और कला का प्रदर्शन किया। 

समारोह को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डेय ने कहा कि राठौर समाज एक श्रेष्ठ समाज है जिसका अपना एक महत्व है। उन्होंने आगे कहा कि राठौर युवा जागृति मंच के द्वारा समाज के बच्चों के लिए जो यह मंच प्रदान किया गया। वह उल्लेखनीय है और कार्यक्रम की अत्याधिक प्रशंसा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष मुकेश सिंह चौहान ने कहा कि राठौर समाज राष्ट्रवीर दुर्गादास राठौर के पद चिन्हों पर चलने वाला समाज है। 

आज इस समाज का एक व्यक्ति देश की सेवा कर रहा है तथा उनके द्वारा न केवल देश में बल्कि देश ही नहीं विदेशों में भी अपने झंड़े गाड़ रहा है। जिस पर आज राठौर समाज को गर्व होना चाहिए। उन्होंने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा कि वह राष्ट्रवीर दुर्गादास के जीवन से प्रेरणा लें और देश और समाजहित में अपनी ऊर्जा का उपयोग करें। 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक माखन लाल राठौर ने कहा कि वो धन्य हैं कि उन्होंने राठौर समाज में जन्म लिया है। इस समाज ने उन्हें इतना दिया हैं। जिसको वह कभी समाज को वापस लौटा नहीं सकते। वह पूरी जिंदगी समाज के ऋणी रहेंगे। कार्यक्रम में विष्णु राठौर पार्षद, मानकचंद राठौर, रवि राठौर, हरिओम राठौर हटैयन, रोशनी राठौर, यशवंत राठौर सीएमओ, जीतू राठौर मंचासीन रहे तथा कार्यक्रम में समाज के सभी वर्गो के लोगों ने तथा समाज की महिलाओं और बच्चों ने उत्साह पूर्वक भाग लिया। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।