Monday, August 07, 2017

लूट के आरोपियों ने पुलिस पार्टी पर की फायरिंग, दो आरोपी दबोचे गए, एक भाग गया

शिवपुरी। जिले में अलग-अलग स्थानों पर हुई दो लूट की घटनाओं को लेकर पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लग रहे थे। एक घटना जहां नरवर में 25 लाख की हुई तो दूसरी ओर घटना इसके एक दिन बाद ही खनियाधाना में पेट्रोल पंप पर घटित हुई। इस मामले में जहां नरवर पुलिस लुटेरों की तलाश में जुटी है तो वहीं दूसरी ओर खनियाधाना में हुई लूटकाण्ड मामले में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। 

घटना के बाद पुलिस ने 8 घंटे में ही दो हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया जबकि जबाबी कार्यवाही में ही आरोपियों ने पुलिस पर भी जानलेवा फायर झोंकें, बाद में कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस ने दो आरोपियों को धर दबोचा जबकि एक अभी भी फरार चल रहा है। पुलिस आरोपियों से लूटे गए माल की बरामदगी में जुटी हुई है। 

बताना होगा कि बीती रात्रि को खनियाधाना में पेट्रोल पंप व्यावसाई के साथ लूट की घटना हुई थी जब तीन आरोपी रात्रि 8:30 बजे बाईक में पेट्रोल डलाने के बाद पेट्रोल पंप के ऑफिस में जा घुसे और वहां कट्टे की नोंक पर 17 हजार रूपये की लूट को अंजाम देकर फरार हो गए। पंप पर हुई लूट की जानकारी जब पुलिस को लगी तो वह चकरघिन्नी हो गई और रात भर पुलिस आरोपियों की तलाश में जुटी रही। इसी बीच थाना प्रभारी खनियाधाना विजय जाट ने पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे के निर्देशन में पूरे मामले से अवगत कराकर आरोपियों की तलाश बामौरकलां व मायापुर थाना प्रभारी के साथ की। 

इसी बीच पुलिस को लोकेशन मिली कि आरोपीगण बामौरकलां के निकट से गुजर रहे है इस पर तत्काल बामौरकलां एसओ कैलाश शर्मा व मायापुर एसओ कैलाश शर्मा मय फोर्स के साथ पहुंचे और आरोपियों को घेरने की योजना बनाई तभी आरोपियों का पुलिस से आमना-सामना हो गया और उन्होंने अपने पास मौजूद कट्टे से पुलिस पर जानलेवा फायर झोंक दिया। इस हमले में बामौरकलां एसओ कैलश शर्मा व एक आरक्षक बाल-बाल बच गए, बाद में पुलिस ने अपने प्रयासों से अलसुबह 4 बजे दो आरोपियों को धर दबोचा। 

पकड़े गए आरोपियों में बफाती खान निवासी बाड़ी थाना चंदेरी, कृष्णप्रताप सिंह बुन्देला निवासी तोड़ा थाना चंदेरी, एवं भागे हुए व्यक्ति का नाम देवी सिंह बुन्देला निवासी कडऱाना थाना चंदेरी है जिन्हें पुलिस ने बामौरकलां तिराहा से पकड़ा है। पुलिस ने इन आरोपियों को पकडऩे के लिए इन्हें गुमराह किया और फिर घेराबंद की। इन आरोपियेंा को पकडऩे में खनियाधाना पुलिस टीम के सउनि आर.एन.शर्मा, आर.रिंकेश, मनोज, सत्यवीर सिंह व थाना बामौरकलां के एसओ कैलाश शर्मा मयफोर्स के तथा थाना मायापुर के एसओ कैलाश शर्मा मय फोर्स के शामिल रहे। 

आरोपियों के कब्जे से दो कट्टे 315 बोर के जिनके नाल में एक-एक खाली कारतूस पाया गया, 4 जिन्दा राउण्ड भी बरामद हुए, दो खाली खोका व लूट में प्रयोग की गई होण्डा साईन मोटरसाईकिल जब्त की है। वहीं लूट गए 17 हजार रूपये पुलिस ने जब्त नहीं किए लेकिन बताया गया है कि आरोपियों ने कहीं पुलिया के निकट छिपाए है जिनकी तलाश में पुलिस जुटी है। वहीं पुलिस पर जानलेवा हमले को लेकर घटनास्थल बामौरकलां में धारा 307 के तहत भी प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।