Thursday, August 03, 2017

एसडीएम रूपेश उपाध्याय ने सतनवाड़ा में 6 अतिक्रमकों को किया बेदखल, खुलवाए रास्ते

शिवपुरी। कलेक्टर तरूण राठी द्वारा जिले में लंबित राजस्व प्रकरणों के निराकरण हेतु संचालित विशेष राजस्व अभियान के परिणाम भी जिले में स्पष्ट रूप से दिखाई देने लगे है। अभियान में न केवल वर्षों से लंबित प्रकरणों का निराकरण हो रहा है। बल्कि ग्रामवासियों को विशेष राहत भी मिल रही है। अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी रूपेश उपाध्याय ने बताया कि शिवपुरी अनुभाग के तहत अभियान के शुरू में 37 से अधिक नामांतरण एवं 06 वंटवारे के प्रकरण दर्ज हुए, 05 लोगों के ऐसे प्रकरण थे, कि उनकी भूमि पर अन्य प्रभावशाली लोगों का कब्जा था, जिन्हें मुक्त कराकर संबंधित को भूमि का कब्जा दिलाया गया। उन्होंने बताया कि ग्राम सतनवाड़ा में खेत को जाने वाला महत्वूपर्ण रास्ता लगभग 15 वर्ष पूर्व से अवरोध था।

जिससे किसानों को अपने खेतों तक आने एवं जाने तथा कृषि कार्य में काफी परेशानी आती थी। इस रास्ते को अवरोध करने वाले 6 अतिक्रमकों को रास्ते बेदखल करके रास्ता खुलवाया। जिससे किसान आसानी से अपने खेतों पर आ जा सके। ग्राम बड़ौदी में सडक़ की भूमि का विवाद लंबे समय से चल रहा था। जिसमें न्यायालय अनुविभागीय अधिकारी ने अतिक्रमणधारी दखनलाल पुत्र गब्बू रावत, हरीराम पुत्र गब्बू रावत, अन्नू पुत्र पहलू रावत के विरूद्ध सिविल जेल वारंट जारी किए गए। 

तहसीलदार द्वारा 02 अगस्त को स्थल पर जाकर कब्जा हटाकर संबंधित भू-स्वामी को कब्जा दिलाया गया। अनुविभागीय दण्डाधिकारी ने किसानों से आग्रह किया है कि यदि उनका कोई भूमि विवाद है, वह तहसील शिवपुरी के तहत आने वाले ग्राम पंचायतों में आयोजित हो रहे शिविरों में उपस्थित होकर संबंधित तहसीलदार, नायब तहसीलदार को आवेदन देकर अपने प्रकरण का निराकरण करा सकते है। 

उन्होंने बताया कि लंबित राजस्व प्रकरणों के निराकरण हेतु प्रथम चरण का अभियान 26 जुलाई से शुरू किया गया था, जो 17 अगस्त तक चलेगा। जबकि द्वितीय चरण का अभियान 18 अगस्त से शुरू होगा। ऐसे किसान या ग्रामीण जो राजस्व प्रकरणों के निराकरण के संबंध में अपना आवेदन प्रथम चरण के अभियान में नहीं दे सके है, वे अपना आवेदन पत्र द्वितीय चरण के अभियान में भी दे सकते है। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।