यशोधरा राजे सिंधिया ने 173 दिव्यांगों को प्रदाय किए कृत्रिम अंग और उपकरण

शिवपुरी। खेल और युवा कल्याण, धार्मिक न्यास और धर्मस्व विभाग मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने भारत सरकार की एडिप योजना के तहत सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खोड में आयोजित कार्यक्रम में 173 दिव्यांग भाई-बहनों को कृत्रिम अंग एवं उपकरण प्रदाय किए। इस मौके पर उन्होंने राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना के 05 प्रकरणों में और विभिन्न पेंशन योजनाओं में 08 हितग्राहियों को और लाडली लक्ष्मी योजना 07 बालिकाओं को स्वीकृति राशि के पत्र प्रदाय किए। 

आयोजित कृत्रिम अंग एवं उपकरण वितरण कार्यक्रम में पोहरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक प्रहलाद भारती, भाजपा जिलाध्यक्ष सुशील कुमार रघुवंशी, कलेक्टर तरूण राठी, उपसंचालक सामाजिक न्याय बी.डी.गुप्ता, अनुविभागीय दण्डाधिकारी संजीव जैन, भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम(एडिप) कानपुर के प्रतिनिधि सहित जनप्रतिनिधि एवं दिव्यांग भाई-बहन उपस्थित थे। श्रीमती सिंधिया ने कृत्रिम एवं सहायक उपकरण प्रदाय करने के पूर्व कार्यक्रम में आए दिव्यांग भाई-बहनों के पास पहुंचकर प्रत्येक से चर्चा की और कुशलक्षेम पूछा।

उन्होंने कृत्रिम अंग एवं सहायक उपकरण प्रदाय करने के लिए भारत सरकार के एडिप की सराहना भी की। उन्होंने कृत्रिम अंग उपकरण वितरित करते हुए कहा कि कई दिव्यांग भाई-बहनों को ये उपकरण प्राप्त होने से अपने जीवन को बेहतर तरीके से जी सकेंगे और स्वरोजगार भी कर सकेंगे। कार्यक्रम में 173 हितग्राहियों को ट्राईसाईकिल, व्हीलचेयर, नेत्रहीनों को छड़ी, स्मार्ट किट, ब्रेल लिपि किट और दिव्यागों को कृत्रिम अंग प्राप्त कर दिव्यांगों के चेहरे पर झलकने लगी थी खुशी। 

कार्यक्रम में आए दिव्यांग गणेश खेड़ा निवासी शारदा लोधी ट्रायसाईकिल पाकर, ककरोआ के सुनील लोधी, केनवाया के पप्पू आदिवासी, छोटे लाल ट्रायसाईकिल पाकर इसी प्रकार रामदेवी व्हील चेयर, केडरखेही सहदेव लोधी (केलीपर सूज) सहित अन्य दिव्यांग भाई-बहन बैसाखी एवं अन्य कृत्रिम अंग प्राप्त कर काफी खुश हुए। इन सभी का कहना था कि खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती सिंधिया के प्रयासों से आज उन्हें कृत्रिम अंग मिले है। अब उन्हें चलने-फिरने और छोटी-मोटी दुकान करने में परेशानी नहीं आएगी। 
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------