Friday, July 28, 2017

पोहरी से चोरी गई बाईक के चोर सीसीटीव्ही में कैद, तीन चोरों ने दिया है चोरी को अंजाम

पोहरी। जिले के पोहरी थाना क्षेत्र के पोहरी कस्बे में दो दिन पहले कबाड़े की दुकान से चुराई गई मोटरसाइकिल पेट्रोले पंप के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई है। फुटेज देखकर फरियादी राकेश राठौर ने अपनी मोटरसाइकिल पहचान ली। फुटेज में तीन चोर स्पष्ट दिखाई दे रहे हैं जिनमें से मोटरसाइकिल चला रहा युवक काली शर्ट पहना है जबकि उसके पीछे बैठे दो युवक सफेद रंग की शर्ट और काले रंग की  पेंट पहने हुए हैं। हुलिए से चोरों की उम्र 20-25 वर्ष के आसपास दिख रही है। 

फरियादी राकेश राठौर की कबाड़े की दुकान और मकान है। 26 जुलाई को शाम 6 बजे के लगभग उन्होंने अपनी पल्सर मोटरसाइकिल  क्रमांक एमपी 33 एमजे 5217 दुकान तथा घर के सामने रखी। इसी बीच उनकी मोटरसाइकिल वहां से गायब हो गई। चूंकि मोटरसाइकिल में पेट्रोल कम था इसलिए फरियादी ने मोटरसाइकिल चोरी होने के बाद उसे शंका हुई कि शायद चोरों ने पेट्रोल पंप से पेट्रोल लिया हो।

इसलिए वह स्वयं पोहरी के शिवपुरी रोड़ स्थित संजय लूनावत के पेट्रोल पंप पहुंचा जहां उसने श्री लूनावत को बताया कि उसकी मोटरसाइकिल चोरी हो गई है और वह पेट्रोल पंप के सीसीटीवी फुटेज देखना चाहता है। इस पर श्री लूनावत ने सहर्ष अनुमति देते हुए उन्हें सीसीटीवी फुटेज दिखाने की व्यवस्था की तो फुटेज देखकर उसे चोरों के हुलिए का पता चल गया। इसकी सूचना फरियादी ने पुलिस को दी और पुलिस ने कल पेट्रोल पंप संचालक से फुटेज लेकर जांच शुरू कर दी है। 

शाम 6:58 मिनट पर चोर पेट्रोल पंप पहुंचे
सीसीटीवी फुटेज देखने से स्पष्ट होता है कि 6 बजकर 58 मिनट पर चोर पेट्रोल पंप पर पहुंचे जहां उन्होंने 1 मिनट 13 सेंकड में 150 रूपए का पेट्रोल भराया। मोटरसाइकिल चालू हालत में थी, उसकी लाइट जल रही थी और उसे ढरकाता हुआ काले  रंग की शर्ट पहने वाला  व्यक्ति लाया। उसके पीछे सफेद रंग की शर्ट पहने वाले दो युवक थे। पेट्रोल भरवाने के बाद सफेद रंग की शर्ट पहने वाले व्यक्ति ने 150 रूपए पेट्रोल डालने वाले को दिये और वहां से रवाना हो गए। 

पेट्रोल पंप के नौकरों को भी हो गया था चोरों पर शक
जिस अंदाज में पेट्रेाल पंप पर चोर गाड़ी लेकर आए उसे देखकर पेट्रोल पंप पर काम कर रहे नौकरों को भी शक हो गया था। एक तो चालू गाड़ी को पैदल अपने हाथों से खींचता हुआ काले रंग का युवक पंप पर पहुंचा। इसके बाद उसने अपने पास मौजूद मोटरसाइकिल की चाबियों में से बदल बदलकर चाबी निकालकर पेट्रोल की टंकी खोलने का प्रयास किया। अंत में उसे सफलता मिली इसके बाद उसने इग्रिेशन में बदल बदलकर अलग अलग चाबियां लगाईं। अंत में उसे सही चाबी मिल गई। उनकी हरकत देखकर पेट्रोल पंप के नौकर कह रहे हैं कि ऐसे क्यों लाए हैं चालू गाड़ी पेट्रोल पंप पर। चाबी बदल बदलकर वो ताकत के साथ लगा रहे हैं। उन्होंने गाड़ी बंद क्यों नहीं की इस तरह के कई सवाल फुटेज में नौकर द्वारा अपने साथी से पूछे जा रहे हैं। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।