Thursday, July 06, 2017

ग्राम दादौल में बुखार ने डेढ़ सैंकड़ा आदिवासियों को जकड़ा

शिवपुरी। शिवपुरी के आदिवासी बाहुल्य ग्राम दादौल में इन दिनों बुखार का प्रकोप फैला हुआ है, लगभग हर घर में एक बीमार की खाट बिछी हुई है। पूरे गाँव में 172 लोग बीमारी की गिरफ्त में हैं उसके बावजूद भी अभी तक स्वास्थ्य प्रशासन का कोई अमला मौके पर नहीं पहुंचा है। आज सहरिया क्रांति की टीम ने संयोजक संजय बेचैन के नेतृत्व में मौके पर जाकर गाँव का जायजा लिया तो वहाँ बड़े भयानक हालत थे इसकी सूचना क्रांति के सदस्यों ने सीएमएचओ डॉ. सागर को दी जिस पर उन्होंने तत्काल स्वास्थ्य टीम को मौके पर रवाना किया। वहीं मलेरिया अधिकारी को भी तत्काल गाँव का दौरा करने का निर्देश दिया।

जानकारी के अनुसार दादौल गाँव नई सडक़ का निर्माण हुआ है जिसके ऊंचाई के कारण आसपास पोखर निर्मित हो गए हैं जिनमें बरसात का पानी जमा हो गया। बरसात के इस सड़ांध मारते पानी में मलेरिया के वाहक मच्छर उत्पन्न हो रहे हैं जिनकी चपेट में सैंकड़ों आदिवासी परिवार आ गए हैं। जिन ग्रामीणों को मलेरिया और बुखार ने अपनी चपेट में ले लिया है उनमें लक्ष्मी, नवल सिंह, राजकुमार, रघुनंदन, लीला, हल्के, पूजा, सनी, सोनू, अनिल, सिया, सुनील, राजनंदनी, कपूर, रामकली, राजकुमार, जुझार, रामकृष, भरत, कपूरी, रजनी, राजो, नेतराम, अजुद्दी, नरेन्द्र, गुलशन, सुशीला, रामकिशन, सीमा, आकाश, दीपक, राजेश, अनारकली, संजय, शिवसिंह, रामू, संगीता, पिंकी, इमरत गुड्डू, पुनिया, अभिषेक, कीर्ति, अरलाल, फेरन, विजयलाल, नंदकिशोर, सीमा, प्रियंका, सखीना, गयाजीत, आशाराम, गोविन्द, नारायण, राजकुमारी, ऊषा, जमुना, फूलवती, मोहित, पूजा, अनीता, पवित, विजय, ललिता, कारी, माला, पूजा आदि शामिल हैं। 

इन सबको लगातार बुखार आ रहा है और दादौल के हर घर में कोई न कोई बीमार पड़ा हुआ है। यह हालात पिछले एक सप्ताह से हैं, जब प्रशासन ने इन आदिवासियों की कोई सुध नहीं ली तब सभी ने सहरिया क्रांति को इसकी सूचना दी जिस पर टीम के सदस्यों ने गाँव का भ्रमण कर वस्तु स्थिति का जायजा लेकर स्वास्थ्य अधिकारी श्री सगर को अवगत कराया। उन्होंने भी मामले को गम्भीरता से लेकर तत्काल राहत पहुंचाई।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।