Wednesday, July 05, 2017

कोर्ट में जमींन का केस हारने पर किसान ने लगाई फांसी

पिछोर। जिले के पिछोर थाना क्षेत्र के हिम्मतपुर चौकी के ग्राम राधापुर के जंगल में फायरिंग रेंज में एक किसान ने जमीन का केस हारने के परेशान होकर छैले के पेड़ पर अपनी तोलियां से फांसी लगा ली। इस मामले में पुलिस ने मर्ग कायम कर विवेचना शुरू कर दी है। हिम्मतपुर चौकी प्रभारी प्रतापसिंह गुर्जर ने बताया कि राधापुर निवासी गोविंददास पुत्र प्रहलाद जाटव उम्र 70 वर्ष  ने गांव के ही मूंगाराम जाटव से पांच बीघा पट्टे की जमीन खरीदी थी और उस जमीन पर गोविंददास खेती कर अपने परिवार का भरण पोषण कर रहा था। लेकिन मूंगालाल के बच्चों ने पट्टे की इस जमीन पर अपना अधिकार बताया और केस पिछोर न्यायालय में लगा दिया 

जिसके बाद सुनवाई उपरांत न्यायालय ने फैसला मूंगालाल के बेटों के पक्ष में दिया जिसके बाद से गोविंददास परेशान चल रहा था जिसके चलते मंगलवार को गोविंददास ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। गोविंददास के बेटे मानसिंह का कहना है कि केस हारने के बाद से पिता परेशान थे और उनका कहना था कि जमीन छिन गई है अब रोजी रोटी कैसे चलेगी। 

बीते दो दिन से लापता था और हम उनकी तलाश कर रहे थे मंगलवार को गांव वालों ने सूचना दी राधापुर मजरे के पास जंगल में उसके पिता पेड़ से लटके हुए हैं।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।