Thursday, July 06, 2017

एफआईआर के विरोध में कांग्रेसियों ने पुलिस अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन

शिवपुरी। नगर पालिका अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष सहित 50 अन्य कांग्रेसियों के खिलाफ दोशियान कंपनी के प्रोजेक्ट मेनेजर महेश मिश्रा द्वारा दर्ज कराए गए प्रकरण की जांच कराने के लिए। जिला कांग्रेस जिलाध्यक्ष रामसिंह दादा के नेतृत्व में दो दर्जन से अधिक कांग्रेस पदाधिकारियों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचे और पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे से मिलकर पूरे प्रकरण न्यायिक जांच कराने की मांग की जिस पर पुलिस अधीक्षक ने आश्वासन दिया किसी पूरे प्रकरण जांच कराई जाएगी। 

ज्ञापन में बताया नगर पालिका में कार्यरत दोशियान कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर महेश मिश्रा द्वारा आज नगर पालिका के अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और उपाध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा अन्नी सहित 50 अन्य कांग्रेसियों पर एफआईआर दर्ज करार्ई है क्योंकि कांग्रेस उनके गलत कृत्यों को उजागर कर रही थी पूर्ण ईमानदारी के साथ काम कराना चाहती है। 

कार्य की क्वालिटी में पूर्ण गुणवत्ता हो, कार्य समय पर हो, जिससे जनता को योजना का लाभ जल्द मिल सके। क्योंकि कई डेट लाईन दी गई है। इसके उपरांत भी आज दिनांक तक योजना का लाभ जनता को नहीं मिल सका है। जगह-जगह लाईन फूटी पड़ी है। नपा के पदाधिकारियों का दायित्व है कि वह योजना का समय-समय पर निरीक्षण कर सकते हैं। 

लेकिन इस तरह की पहली घटना है कि चुने हुए जनप्रतिनिधि जिन्हें कानूनन भी हक है कि कार्य की मॉनिटरिंग करें तथा कार्य समय-सीमा में हो, पूर्ण गुणवत्ता के साथ हों। लेकिन जनहित की बात करना ही गुनाह है और पुलिस द्वारा दोशियान कंपनी के अपने कृत्यों को छुपाने संस्था प्रमुखों सहित अन्य 50 लोगों  पर प्रकरण दर्ज कर दिया गया। यह लोकतंत्र की हत्या है। 

इस कृत्य की न्यायिक जांच हो। प्रकरण की न्यायिक जांच कराने वालों में जिलाध्यक्ष रामसिंह यादव, हरवीर सिंह रघुवंशी, राकेश गुप्ता, विजय शर्मा, केशव सिंह तोमर, बैजनाथ सिंह यादव, मुन्नालाल कुशवाह, अनिल शर्मा अन्नी, सिद्धार्थ लढ़ा, आलोक शुक्ला सहित दो दर्जन कांग्रेसी उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।