अपना घर आश्रम का शिवपुरी में हुआ शुभारंभ, वेदनाओं को झेलने वाले असहाय लोगों को मिलेगा आश्रय

शिवपुरी। शहर में समाज का एक वर्ग ऐसा भी है जो अपने ऐसो आराम को त्यागते हुए ऐसे लोगों की सेवा में रत है जो आश्रयहीन, असहाय, बीमार, हालत में सडक़ के किनारे सार्वजनिक एवं धार्मिक स्थलों पर पड़े वेदनाओं के अंतिम कष्टों को झेलने के लिए मजबूर हैं, इन्हीं लोगों को आश्रय देने का बीढ़ा ब्राह्मण समाज के पूर्व अध्यक्ष कैलाश दुबे एवं गौरव जैन पंचायती व उनके साथियों ने उठाते हुए दुबे नर्सरी के पास अपना घर आश्रम सेवा प्रकल्प का शुभारंभ संत  माहत्माओं के कर कमलों द्वारा किया गया।

इस आश्रम में नौ ऐसे दीन हीन सडक़ किनारे पड़े लोगों की सेवा की जा रही है। प्रदेश का पहला गैर शासकीय प्रकल्प माँ माधुरी बृजबारिस सेवा सदन अपना घर द्वारा संचालित किया जाएगा। इस संस्था द्वारा देश भर में 19 आश्रम संचालित किए जा रहे हैं। जिनमें 3500 से भी अधिक प्रभूस्वरूप पीडि़तों को आश्रय देकर सेवायें की जा रहीं हैं। 

दुबे नर्सरी के संचालक ब्राह्मण समाज के पूर्व अध्यक्ष सुरेश दुबे द्वारा उपलब्ध कराई गई भूमि पर निर्मित भवन में अपना घर आश्रम का शुभारंभ प्रसिद्ध कथा वाचक महाराज श्री अरविन्द एवं चूना खो के महाराजश्री संस्था के संस्थापक बीएम भारद्वाज राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरपाल सिंह, उपाध्यक्ष एनपी सिंह, डॉ.पीके खरे, मंगल के मानसेवी सचिव राजेन्द्र मजेजी, संघ के विभाग प्रचारक बृजकांत चतुर्वेदी, पोहरी विधायक प्रहलाद भारती, पूर्व विधायक माखन लाल राठौर ने भारत माता के चित्र पर माल्यार्पण कर किया।

इस अवसर पर कथा वाचक महाराज श्री अरविन्द जी ने अपने आर्शीवचन देते हुए कहा कि अपना घर आश्रम द्वारा भरतपुर में संचालित आश्रम को देखकर लगता है कि यहां के संचालक समिति के सदस्य सेवा को अपना धर्म मानते हुए नर की सेवा नारायण सेवा के रूप निस्वार्थ भाव से कर रहे हैं। जबकि वर्तमान परिवेश में लोग सेवा को प्रदर्शन, स्वार्थ, सम्मान का माध्यम मानकर करते हैं। हमें खुशी है कि शिवपुरी में भी आश्रयहीन लोगों के लिए इस संस्था द्वारा अपना घर आश्रम का शुभारंभ किया है। माराजश्री चूना खो ने भी अपना आर्शीवचन देते हुए कहा कि भगवान की शरण में जाने का रास्ता सेवा के द्वारा ही खुलता है। उन्होंने कहा कि सेवा धर्म कठोर हैं जिसको उत्साह और उमंग से करना चाहिए। 

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विभाग प्रचारक बृजकांत चतुर्वेदी ने अपने उदबोधन में कहा कि वे लोग धन्य हैं जिन्होंने शिवपुरी में आश्रयहीन दीन दुखियों को अपना घर उपलब्ध कराने का कठिन कार्य किया है। उन्हें उम्मीद है कि शिवपुरी जिले में एक भी आश्रयहीन पीडि़त व्यक्ति अब बिना घर के नहीं रहेगा। इस अवसर पर संस्था के संस्थापक बीएस भारद्वाज, राष्ट्रीय अध्यक्ष वीरपाल सिंह, उपाध्यक्ष एनपी सिंह, डॉ. राजेन्द्र मजेजी ने भी अपने उदबोधन व्यक्त किए। कार्यक्रम का संचालन कर्मचारी नेता सुरेश दुबे एवं आभार प्रदर्शन कैलाश दुबे ने किया।  
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।