शायर आफताब अहमद की ‘ख़मसा अनासिर’ पुस्तक का विमोचन

शिवपुरी। शिवपुरी के प्रसिद्ध शायर एवं साहित्यिक संस्था बज़्मे उर्दू के अध्यक्ष आफताब अहमद खान अलम की पुस्तक ‘ख़मसा अनासिर (पंचतत्व)’ का रविवार को एक निजी होटल में विमोचन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में प्रसिद्ध गीतकार एवं सेवानिवृत्त शिक्षक हरिशचन्द्र भार्गव विरही उपस्थित रहे। 

कार्यक्रम में उपस्थित साहित्य से जुड़े लोगों द्वारा आफताब अहमद सहित मंचासीन अतिथियों का फूलमाला पहनाकर स्वागत किया गया। मुख्य अतिथि श्री भार्गव ने अपना उद्बोधन देते हुए कहा कि आफताब अहमद एक प्रसिद्ध शायर है और शायरी उन्हें विरासत में मिली हैं। शायरी को ऊंचाइयों तक और पहुंचाने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है। 

मंचासीन अतिथि में डॉ. एचपी जैन, डॉ.खरे सहित अन्य लोग उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि अहमद खान का जन्म शिवपुरी के शिवपुरी के हाफिफ निसार के घर में हुआ था और वे बचपन से ही पढऩे-लिखने का शौक रखते थे। श्री खान पेशे से शिक्षक हैं और उन्होंने उर्दू से पीएचडी भी की है। शायरी उन्हें अपने पिता से विरासत में प्राप्त हुई जिसे उन्होंने आगे बढ़ाया। 

साहित्यिक संस्था बज़्मे उर्दू के श्री खान वर्षों से अध्यक्ष हैं और इस संस्था के माध्यम से उन्होंने साहित्य को आगे बढ़ाने के भरसक प्रयास किए हैं। आफताब अहमद खान अलम की यह पुस्तक पंचतत्व पर आधारित हैं जिसमें उन्हें पंचतत्व आग, पानी, हवा, आसमां और मिट्टी का गजल के रूप में बखूबी वर्णन किया गया है। विमोचन के इस मौके पर सैंकड़ों साहित्यप्रेमी एवं गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे।
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------