Saturday, July 29, 2017

मड़ीखेड़ा परियोजना में आप ने काम पर लगाए हनुमान जी का आज 40 वां सुंदरकाण्ड

शिवपुरी। शहर की महत्वाकांक्षी परियोजना जलावर्धन योजना के क्रियान्वयन में आने वाली बाधाओं को दूर करने के लिए लगातार संगीतमय सुन्दरकाण्ड का आयोजन किया जा रहा है। सुन्दरकाण्ड आयोजन समिति के संयोजक एड.पीयूष शर्मा ने बताया कि शहर के लिए मड़ीखेड़ा परियोजना जीवनदानी योजना है और इस योजना के लिए माननीय उच्च न्यायालय तक भी कागजी कार्यवाही की गई और नगर में भी भ्रमण कर जन चेतना निकाली गई, बावजूद इसके समय-समय पर योजना को ग्रहण लगता गया और अब एक बार फिर से इस योजना पर पीएचई विभाग द्वारा अड़ंगा डाला गया है।

ऐसे में इस योजना की सभी अड़चनों को श्री हनुमान जी महाराज दूर करेंगें इसके लिए शहर के सभी 39 वार्डों के मंदिरों पर लगातार संगीतमय सुन्दरकाण्ड का आयोजन किया जा रहा है। अब तक 39 सुन्दरकाण्ड पाठों का आयोजन शहर के विभिन्न मंदिरों पर संपन्न हो चुके है और 40 वां आयोजन मॉं काली दरबार झांसी रोड़ पर आयोजित होगा। सभी नगरवासियों से इस सुन्दरकाण्ड आयोजन में अधिक से अधिक संख्या में शामिल होने की अपील की गई है। 

मड़ीखेड़ा परियोजना की सभी बाधाओं को दूर करने के लिए आयोजित संगीतमय सुन्दरकाण्ड में एड.पीयूष शर्मा के साथ विपिन शिवहरे, अभिषेक भट्ट, अमित योगी, अशोक गुप्ता, सतीश खटीक, पूरन सेन, विनोद अग्रवाल, गजेन्द्र किरार, जितेन्द्र ओझा, राजेश शर्मा, राजकुमार त्यागी, मुकेश राठौर, दिनेश शर्मा, असद अली, मो.आमिर खान, राशिद खान, कासिम खान, साकिर खान, सुलेमान खान, सोहेब खान, फिरोज खान, शब्बीर खान, असलम भाई कुर्रेशी, सादिक खान, अमरेन्द्र सिंह सरदार, जिला सचिव जीएस सक्सैना, राहुल गोस्वामी, भूपेन्द्र गुप्ता, अशोक गुप्ता आदि साथी शामिल है। श्री हनुमान जी से योजना के क्रियान्वयन कराकर शिवपुरी की जनता को पानी घर-घर में नलों से पानी पहुंचाने की प्रार्थना की जा रही है। 43 वें सुन्दरकाण्ड पर समापन होगा जिसमें विशेष पूजा-अर्चना कर इस कार्यक्रम को संपन्नता प्रदान की जाएगी। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।