Monday, June 26, 2017

ईद के मौके पर खुदा के आगे सजदे में झुके सर, मांगी अमन चैन कि दुआ

कोलारस। सोमवार को ईद उल फित्र का त्योहार हर्षोल्लास से मनाया गया। ईदगाह एवं मस्जिदों में तकरीर हुई। मुस्लिम समाज के लोगों ने ईद की नमाज अदा की और सुख-शांति और समृद्धि के लिए अल्लाह से दुआ मांगी। कोलारस ईदगाह पर सेंकड़ो सिर सजदे में झुके। शहरकाजी ने ईदगाह पर 9: 30 बजे विशेष नमाज अदा कराई। जिसके बाद सभी मुस्लिम समुदाय के लोगो के द्वारा देश और तरक्की के लिए अमन चैन कि सामूहिक दुआ कि गई। इबादत के बाद रंग बिरंगे परिधानों में सजे लोगों ने एक दूसरे के गले मिलकर ईद की मुबारकबाद दी। सिवइयों से मुंह भी भीठा कराया गया। लजीज व्यंजनों की खुशबू दिन भर महकती रही। 

ईद के मुबारक मौके पर मुस्लिम समाज के लोगों ने नए कपड़ों के साथ नवाबी, कश्मीरी सहित कई प्रकार टोपियां भी पहनीं। बड़ों ने छोटों को ईदी दी। हिंदू एवं अन्य समाज के लोग भी कार्यक्रमों में शरीक हुए। साथ ही प्रशासन द्वारा सुरक्षा के ईतजाम किये गए। 

कोलारस एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया ने सुरक्षा कि कमान खुद संभाली और कोलारस थाना प्रभारी अवनीत शर्मा के साथ ईदगाह पहुंचकर सुरक्षा ईतजामो का जायजा लिया साथ ही नगर परिषद द्वारा साफ सफाई के इंतजाम किये गए। सुरक्षा कि दृष्टि से दर्जनो पुलिसकर्मी ईद कि नमाज के वक्त तैनात थे।

जनप्रतिनिधियो, अधिकारियो ने गले मिलकर दी ईद कि बधाई
कोलारस एसडीएम आरके पांडे, एसडीओपी सुजीत सिंह भदौरिया, थाना प्रभारी अवनीत शर्मा, नायब तहसीलदार धीरज परिहार, नपाध्यक्ष रविन्द्र शिवहरे ब्लॉक कांग्रेस अध्यक्ष सौहन गौड, सिंधियां फेंस क्लब जिलाध्यक्ष पवन शिवहरे, पूर्व नपाध्यक्ष धर्मेन्द्र शिवहरे, कांग्रेस उपाध्यक्ष ओपी भार्गव, पूर्व सांसद प्रतिनिधी वलवीर निवौरिया, भाजपा मण्डल उपाध्यक्ष भानू जाट, गोपाल गौड (गुड़ा वाले) ने शहर के कई गणमान्य जनों के साथ पहुंचकर ने शहर काजी, हाफिज मुवीन अहमद, वक्फ वोर्ड अध्यक्ष रफीक खांन, पत्रकार इमरान अली, आशिक मंसुरी आदी को ईदगाह पहुंचकर गले मिलकर ईद कि बधाई दी। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।