Monday, June 12, 2017

नकली बीज और कीटनाशक बेचने बालों पर कठोर कार्यवाही करें: कलेक्टर

शिवपुरी। नवागत कलेक्टर तरूण राठी ने आगामी खरीफ फसलों की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कृषि एवं सहकारिता विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि खरीफ  फसलों के लिए रासायनिक उर्वरकों का अग्रिम उठाव बढ़ाने पर विशेष ध्यान दें। इसके लिए किसानों को विभागीय मैदानी अमले के माध्यम से प्रेरित भी करें। नवागत कलेक्टर श्री राठी ने उक्त आशय के निर्देश आज जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में खरीफ फसलों की तैयारियों एवं व्यवस्थाओं के संबंध में संबंधित विभागों के अधिकारियो की बैठक में दिए। 

उन्होंने कहा कि वर्षा प्रारंभ होने पर किसान खरीफ फसलों की बोनी हेतु जुटेगा। इसके लिए अभी से किसानों को अग्रिम खाद-बीज के भण्डारण हेतु मैदानी अमले के माध्यम से प्रेरित करे। श्री राठी ने 19 जून को कृषि उत्पादन आयुक्त की अध्यक्षता में ग्वालियर में खरीफ फसलों की बोनी के संबंध में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की आयोजित होने वाली एपीसी बैठक में कृषि, पशुपालन, मछली पालन, सहकारिता, कृषि अभियांत्रिकी आदि विभागों द्वारा की गई तैयारियों की समीक्षा कर आवश्यक निर्देश भी दिए। 

श्री राठी ने कहा कि सहरिया जनजाति के किसानो की आर्थिक स्थिति में सुधार हो, इसके लिए किसानों को कृषि के साथ-साथ बकरी एवं मुर्गी पालन जैसे व्यवसाय से जुडऩे हेतु शासन की योजनाओं का उन्हें लाभ दिलाए। साथ ही कृषि विभाग की आत्मा परियोजना के तहत कृषकों के लिए संचालित विभिन्न प्रशिक्षण कार्यक्रमों में सहरिया जनजाति के कृषकों को भी प्रशिक्षण प्रदाय करें। 

उन्होंने कहा कि जिले में स्थित बीज एवं कीटनाशक एवं उर्वरक बेचने वाले विक्रेताओं की जांच कर नमूने लिए जाए। अमानक स्तर के नमूने पाए जाने पर संबंधित दुकानदार के विरूद्ध लायसेंस निरस्ती की कार्यवाही करें। उन्होंने स्वाइल हेल्थ कार्ड की समीक्षा करते हुए कहा कि इस कार्य में भी गति लाए और किसानों को अधिक पैदावार लेने हेतु अपनी खेत की मिट्टी का परीक्षण कराने हेतु भी प्रेरित करें। 

उन्होंने उपसंचालक कृषि को निर्देश दिए कि उनके अधीनस्थ मैदानी अमला ग्रामीण क्षेत्रों में सतत भ्रमण करें और किसानों को उन्नत एवं आधुनिक तकनीकी का उपयोग कर कम लागत में अधिक उत्पादन कैसे लें और किसान की आय पांच वर्ष में दोगुनी कैसे हो, इसके लिए उसे समझाईस एवं जानकारियां दें।