Saturday, June 03, 2017

सांसद सिंधिया ने की विकास कार्यो की समीक्षा, बदहाल अस्पताल की व्यवस्थाओं पर जताई नाराजगी

शिवपुरी। शिवपुरी-गुना संसदीय क्षेत्र के सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शिवपुरी जिले एवं नगर में विभिन्न योजनाओं के तहत चल रहे विकास एवं निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। 

जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आज आयोजित बैठक में विधायक कोलारस Ÿरामसिंह यादव, नगर पालिका परिषद शिवपुरी के अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह, पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे, अपर कलेक्टर एवं जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी नीतू माथुर सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारीगण उपस्थित थे। 

सांसद सिंधिया ने एजेण्डेवार विकास एवं निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग एवं मेडीकल कॉलेज की प्रगति की समीक्षा करते हुए जिला चिकित्सालय से आए चिकित्सक को निर्देश दिए कि चिकित्सालय में मरीजों के चिकित्सिय परीक्षण हेतु उपयोग में आने वाले एमआरआई एवं सीटी स्कैन जैसे उपकरणों के मांग हेतु प्रस्ताव शासन को भेजा जाए। 

साथ ही जिला चिकित्सालय में स्वीकृत पदों के विरूद्ध रिक्त पदों की पूर्ति हेतु भी शासन को पुन: प्रस्ताव भेजें। उन्होंने नगर पालिका द्वारा शहर में निर्माण की जा रही सडक़ों के संबंध में मुख्य नगर पालिका अधिकारी को स्पष्ट निर्देश दिए कि ठेकेदार द्वारा सडक़ों का कार्य शुरू न करने पर उसे ब्लैक लिस्टेड की कार्यवाही करें। 

श्री सिंधिया ने सिंध जलावर्धन योजना की प्रगति की समीक्षा करते हुए दोशियान कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मड़ीखेड़ा से सतनवाड़ा फिल्ट प्लांट तक 10 जून तक और सतनवाड़ा से नगर में पानी 30 जून तक लाने के प्रयास करें। 

इस दौरान दोशियान कंपनी के अधिकारियों ने बताया कि मड़ीखेड़ा इन्टैक बैल तक दो पम्प स्थापित किए जा चुके है और एक पम्प के स्थापना का कार्य तीन दिन के अंदर पूर्ण कर लिया जाएगा। पाइप लाईन डालने हेतु 65 पिलर बनाए जा चुके है। फिल्टर प्लांट पर फिल्टर मीडिया का कार्य भी तेजी के साथ किया जा रहा है। 

बैठक में राष्ट्रीय झील संरक्षण परियोजना के तहत सीवेज प्रोजेक्ट की प्रगति,एनटीपीसी इंजीनियरिंग कॉलेज, एनपीटीआई सेंटर, चांदपाठा, शिवपुरी नगर में सब्जी मण्डी, फल मण्डी एवं मटन मार्केट हेतु भूमि का आवंटन, राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना, सेटैलमेंट योजना के तहत आदिवासी परिवारों के लिए आवासों का निर्माण, मेडीकल कॉलेज एवं जिला चिकित्सालय में किए जा रहे विस्तार कार्य की प्रगति, केन्द्रीय सडक़ योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सडक़ योजना, लोक निर्माण और एनएचएआई द्वारा निर्माण की जा रही सडक़ों एवं पुलों की प्रगति की समीक्षा की।