Saturday, June 24, 2017

यह है शिवपुरी से राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार शांतिलाल जैन

शिवपुरी। कांग्रेस और भाजपा के राष्टपति पद के उम्मीदवारो को टक्कर दने के लिए शिवपुरी से खडे हो रहे है शिवपुरी शहर के निवासी एडवोकेट शांतिलाल जैन। हम पाठको को बता दे कि शांति लाल जैन गाय और भूमि की रक्षा का मुद्दा लेकर खडे हो रहे है और आज तक इन्होने पार्षद का चुनाव भी नही लड़ा है। जानकारी के अनुसार शहर के मोतीबाबा मंदिर के पास निवासरत एडवोकेट डॉक्टर शांतिलाल जैन पुत्र रामसहाय जैन उम्र 71 वर्ष शिवपुरी से राष्ट्रपति के पद का नामकंन भरने की बात कह रहे है। इस चुनाव को लडने के लिए शांतिलाल जैन ने पूरी तैयारी भी कर ली है। इस चुनाव के लिए उन्होंने पर्चे भी छपवा लिए है।

इस पद के लिए चुनाव लडऩे ले इस शख्स का साथ चुनाव लडने के चलते परिवार वालों ने भी छोड़ दिया है। यह शख्स इस चुनाब के लिए मायाबती, लालू प्रसाद यादव से भी मिलने की बात कह रहा है। हांलाकि इसके लिए लालू यादव की व्यस्तता के चलते मुलाकात नहीं होने की बात भी कही है। 

जब शिवपुरी समाचार डॉट कॉम ने इनसे पूछा कि इस चुनाव के लिए समर्थक विधायक और सांसदों का होना आवश्यक है तो उन्होंने कहा कि उनके पास सभी समर्थक मौजूद है इन्होंने इस चुनाव के चलते अपनी कागजी कार्यवाही पूर्ण कर ली है और इनका कहना है कि अगर सोमवार को छुट्टी नही रही तो सोमवार को अपना नामांकन दाखिल करेंगें। 

यह है इनका जीवन परिचय
नाम-डॉक्टर शांतिलाल जैन ऐडवोकेट
पिता का नाम-रामसहाय जैन 
जन्मतिथि-18 सिंतबर 1945
जन्म स्थल-जिला भिंड
शैक्षणिक योग्यता-एम ए हिन्दी,एलएलबी, बीएड, आयुर्वेद रत्न,वास्तु एवं योगा
हाल निबासी- वार्ड नंबर 27,साईंबाबा मंदिर,फिजीकल रोड् पानी की टंकी के पास शिवपुरी
मोबाईल नंबर-95222985158

सहभागिता
चम्बल घाटी के डाकूओं का ह्दय परिवर्तन, बंदूकें गांधी जी के चरणों में
2-विश्व आयुर्वेद स्वास्थ्य संगठन में सहभागिता
3 विनोबा जी के भूदान आंदोलन में सहभागिता
4 शिक्षा जगत सन् 1970 से 2012 तक सहभागिता
5 जल जमींन जंगल के सरंक्षण में सहभागिता
6 एकता परिषद में सुब्बाराव जी उवं राजगोपाल जी के साथ
7 गांधी शान्ति प्रष्ठिान में सहभागिता
8 गौमाता आंदोलन मुंम्बई कलकत्ता में सहभागिता
9 जैविक कृषि आंदोलन में सहभागिता
10 हवन द्वारा मानव,कृषि में प्रदूषण की रोकथाम में सहभागिता

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।