Wednesday, June 28, 2017

अटैचमेंट मामला: अधिकारी ही कर रहे है शिक्षा विभाग का बेडा गर्क

शिवपुरी। अधिकारियों की कर्मंचारियों द्वारा चमचागिरी की व्यवस्था जिसे अटैचमेंट कहा जाता है इस व्यवस्था को पूरे प्रदेश में समाप्त कर दिया गया है,लेकिन शिवुपरी जिले में चमचागिरी की व्यवस्था बंद नही हुई है। बताया जा रहा है कि शिक्षा विभाग में अधिकारियों की चमचागिरी कर रहे शिक्षको के लिए यह व्यवस्था अभी भी बंद नही हुई है। जिले में शिक्षा विभाग  के जिला मुख्यालय डीओ ऑफिस में कई शिक्षक अभी भी अटैचमेंट के नाम पर अधिकाारियों की चमचागिरी कर रह है। जब इस सबंध में जिला शिक्षा अधिकारी परमजीत सिंह गिल से चर्चा की तो उनका कहना था कि हमारे यहां कोई भी शिक्षक अटैचमेंट पर नहीं है। 

लेकिन जानकारी आ रही है कि जिला शिक्षा अधिकारी के कार्यालय में ही आधा दर्जन से अधिक शिक्षक वहीं समाजसेवी संस्था स्काउट गाइड में 5 शिक्षक सहित अन्य कार्यालयों में दर्जनों शिक्षक अपनी मूल संस्थाओं में सेवा न देते हुए वहां के रजिस्टरों में ओडी डालकर जिला स्तर पर वरिष्ठ अधिकारी के इर्दगिर्द रहने की दृष्टि से अपना अटैचमेंट करा रखे हैं। यह सब खेल जिले के जिला अधिकारियों की मिलीभगत से चल रहा है। 

अब देखना यह है कि जिला अधिकारी इनका अपने मुख्य कार्यालय में पदस्थ अटैचमेंट को समाप्त कर शिक्षकों को मूल विद्यालयों मेें पहुंचा पाते हैं या नहीं या फिर अटैचमेंट पर रहकर कार्यालय में ही पदस्थ रहेंगे। यदि यह शिक्षक कार्यालय में रहते हैं तो जिन संस्थाओं में इनकी पदस्थापना है वहां के बच्चों के भविष्य का क्या होगा।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।