Tuesday, June 20, 2017

शिवराज मामा की भांजियों को नहीं मिला लाड़ली लक्ष्मी योजना का बचत पत्र

कोलारस। प्रदेश सरकार की महत्वाकांक्षी लाड़ली लक्ष्मी योजना को जिम्मेदार विभाग के कर्मचारी ही पलीता लगा रहे हैं। योजना के तहत हितग्राहियों को दिए राष्ट्रीय बचत पत्र एनएससी चेक वापस लिए जा रहे हैं। तथा कई हितग्राहियो के तो 6 साल से ज्यादा बीतने के बाद भी राष्ट्रीय बचत पत्र नही दिये जा रहे है। जिससे बालिकाए शासन कि महत्वकांक्षी योजना से बंक्षित हो रही है। साथ ही बदले आंगनबाड़ी कार्यकर्ता हितग्राहियों से मनमाने पैसे वसूल करने कि शिकायते भी आ रही है। मामले की शिकायत हितग्राहियों ने विभागीय अधिकारियों के साथ साथ कई बार 181 पर भी कर चुके है। 

ऐसा ही मामला आगंनबाडी केन्द्र क्र. 2 रन्नौद एवं आंगनबाडी केन्द्र से सामने आया है। जहां शिकायतकर्ता द्वारा पर बताया गया कि लाडली लक्ष्मी योजनान्तर्गत राष्ट्रीय बचत पत्र प्राप्त न होने के संबंध में अभी बालिका नाम कुमारी सविता माता मालती पिता पिरवेश कबीर है। बालिका का जन्म दिनांक 17.10..2010 को हुआ था। 

आगंनबाडी केन्द्र क्र. 2 रन्नौद एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता आशा जैन आंगनवाडी कार्यकत्र्ता के माध्यम से संबंधित बालिका को लाडली लक्ष्मी योजना के तहत पंजीकरण सन 2010 में किया गया था शिकायतकर्ता का कहना है। कि बालिका का आज दिनांक तक लाडली लक्ष्मी योजनान्तर्गत राष्ट्रीय बचत पत्र नहीं दिया गया है। इस विषय पर शिकायतकर्ता द्वारा सीएम हैल्प लाईन 181 पर भी शिकायते कर चुके है। 

दूसरा मामला भी रन्नौद आंगनवाड़ी केन्द्र क्रमांक 2 से ही सामने आया है। जहां शिकायतकर्ता द्वारा बताया गया कुमारी गुंजन माझी पुत्री लक्ष्मी माझी पिता संतोष माझी है। बालिका का जन्म 16.12.2015 को हुआ था। लेकिन आगंनबाडी केन्द्र क्र. 02 एवं आंगनबाडी कार्यकर्ता श्रीमती आशा जैन ने। आंगनवाडी कार्यकत्र्ता के माध्यम से संबंधित बालिका को लाडली लक्ष्मी योजना के तहत पंजीकरण किया गया था। लेकिन अभी तक बालिका का लाडली लक्ष्मी योजनान्तर्गत राष्ट्रीय बचत पत्र नहीं दिया गया है। शिकायत करता ने बताया की हमारी शिकायत का कोई निराकरण नहीं हुआ है। सीडीपी के छात्र उपस्थित हुए।

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।