धिक्कार दिवस: सैकड़ों सपाक्स उतरे सडक़ों पर रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन

शिवपुरी। प्रदेश सरकार द्वारा हाईकोर्ट जबलपुर द्वारा पदोन्नित में आरक्षण समाप्त करने को लेकर एक साल पहले अहम फैसला दिया गया था लेकिन सरकार ने हाईकोर्ट के फैसले को मानने की वजाय 12 जून 2016 को फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की है और सरकार के इसी रबैए से नाराज सवर्ण, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक अधिकारी कर्मचारी संस्था व समाज के लोगों ने आज इसे धिक्कार दिवस के रूप में मनाया। 

शाम करीब 4 बजे से शहर के सावरकर पार्क में शिवपुरी सहित जिले भर से आए सपाक्स जन एकत्रित होना शुरू हो गए और शाम 5 बजे के बाद सैकड़ों की संख्या में एकत्रित हुए इन लोगों ने हाथों में तख्तियां व सिर पर अन्न टोपी पहनकर रैली प्रारंभ की। इस दौरान न केवल सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की बल्कि तख्तियां व टोपी के माध्यम से भी अपना विरोध प्रकट किया। 

टोपियों पर जय सपाक्स व हम हैं माई के लाल लिखा हुआ था। दरअसल अजाक्स के सम्मेलन में मुख्यमंत्री ने मंच से ये कहा था कि कोई माई का लाल पदोन्नती में आरक्षण नहीं हटा सकता और इसी से नाराज इस वर्ग ने खुद को माई का लाल बताया था।

रैली के दौरान जिला अस्पताल के सिविल सर्जन गोबिंदसिंह, आरएमओ डॉ. एसएस गुर्जर, शिवपुरी बीआरसीसी अंगदसिंह तोमर के अलावा कृषि, राजस्व सहित अन्य विभागों के सपाक्स वर्ग के अधिकारी भी मौजूद रहे। रैली गुरूद्वारा चौक, माधव चौक चौराहा, कोर्ट रोड होते हुए शाम करीब 6 बजे कलेक्ट्रेट पहुंची यहां भी नारेबाजी करते हुए सपाक्स ने राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन डिप्टी कलेक्टर एलके पांडे  को सौंपा। 

जिला अध्यक्ष डॉ. कौशल गौतम ने ज्ञापन पढक़र भी सुनाया। खासबात यह रही कि रैली में बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद थीं तो वहीं क्षत्रीय समाज, अग्रवाल समाज, राठौर समाज, ब्राम्हण समाज सहित विभिन्न सपाक्स समाज के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.