Friday, June 30, 2017

टेस्ट में बच्चे फैल, खुली पोल, लापरवाह शिक्षकों पर होगी कार्यवाही

पिछोर। गुरूवार से जिले के स्कूलों में बच्चों का शैक्षणिक स्तर जानने के लिए वेसलाइन टेस्ट लिया जाना था लेकिन जब पिछोर क्षेत्र में शिक्षा महकमे के अफसरों ने निरीक्षण किया तब स्कूली शिक्षा की जमीनी हकीकत सामने उजागर हुई। लापरवाह शिक्षकों पर लगातार कार्यवाही और लताड के बावजूद उनका रवैया सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। 

डी.पी.सी शिरोमणी दुबे के निर्देश पर जिला शिक्षा केन्द्र के जिला प्रोग्रमार जुगराज सिंह प्रजापति व पिछोर बी.आर.सी.सी बालकृष्ण ओझा जब पिछोर क्षेत्र के स्कूल में वेसलाइन टेस्ट का जायजा लेने पहुचे तो चौकाने वाली स्थिति सामने आई कई स्कूलों में छात्र संख्या बहुत कम पायी गई तो कही वेसलाइन टेस्ट आयोजित नहीं किया गया। डी.पी.सी अब इस मामले में दोषी शिक्षकों के खिलाफ निलंबन जैसी बडी कार्यवाही करने को कहा है।

जिला प्रोग्रमार जुगराज सिंह प्रजापति वा पिछोर बी.आर.सी.सी बालकृष्ण ओझा जब पिछोर क्षेत्र के शा.प्रा.वि. सलैया समय 1:30 बजे पर निरीक्षण हेतु गये तव विद्यालय में मात्र 03 शिक्षक उपस्थित मिले। जवकि विद्यालय में कार्यरत 05 है रामवावू भादौरिया सहा. अध्यापक हस्ताक्षर करके 1:00 बजे विद्यालय से चले गए एवं कल्लू सिंह लोधी सहा. अघ्यापक दिनांक 27.06.2017 से निरीक्षण दिनांक तक विना किसी सूचना के अनुपस्थित थे। 

इसी प्रकार दिनांक 15.06.2017 से आज दिनांक तक सभी कार्य दिवसों में 50 प्रतिशत छात्रों की फर्जी उपस्थिति दर्ज की गई है कक्षा 3 प्रभारी शिक्षक कमलेश अहिरवार सहा. अघ्यापक द्वारा दिनांक 29 एवं 30 जून को अनुपस्थित छात्र अवधेश केवट की उपस्थिति वेसलाइन टेस्ट में दिखायी गयी है। जो कि घोर अनियमितता का घोतक है। प्रा.वि. सलैया में सभी कक्षाओं के अनुभव टेस्ट के प्रपत्र भरे हुये पाये गये जवकि ग्रामीणो से जानकारी लेने पर मालूम पडा कि दिनांक 15.06.2017 से आज दिनांक तक विद्यालय में ही नहीं आए है। 

इसी प्रकार मा.वि. सलैया में मिथलेष शर्मा अध्यापक ने दिनांक 15.06.2017 से आज दिनांक तक कुल दर्ज छात्र संख्या की 50 प्रतिशत उपस्थिति भरी पाई गई जबकि शाला कक्षों को देखने से स्पष्ट हुआ की कक्षों की आज दिनांक तक सफाई भी नहीं कराई गयी निरीक्षण के समय 03 छात्र ग्राम लोहागढ के पुस्तक लेने आए थे। शिक्षक के इस कृत्य से स्पष्ट होता है कि शिक्षक अपने पदीय दायित्वों का निर्वहन नहीं कर रहे है। 

कक्षा 2 में रामवावू भदौरिया सहा. अघ्यापक के स्वंय के 29 एवं 30 उपस्थिति पंजी में हस्ताक्षर है परन्तु वेसलाइन टेस्ट नहीं कराया गया है। शा.प्रा.वि. नयाखेडा सडक़ समय 11:20 बजे पर निरीक्षण किया गया विद्यालय में कुल दर्ज 28 छात्रों में 27 छात्र उपस्थित मिले विद्यालय में वेसलाइन टेस्ट का कार्य कराया जा राह था प्र.अ. श्रीमति राजकुमारी गुप्ता, श्रीमती सविता पचौरी द्वारा वेसलाइन टेस्ट के प्रपत्रों को पढ़ा नहीं गया है। जब छात्रों से पुस्तक पढवाई गई तो छात्र पुस्तक नहीं पढ पाये छात्रो अंग्रेजी विषय में बहुत कमजोर पाए गये है। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।