Monday, June 26, 2017

बारिश के प्रांरभ होते ही नगर भ्रमण पर निकले मिस्टर मगरमच्छ

शिवपुरी। शिवपुरी शहर वैसे तो मगरमच्छ की प्रांरभ से ही मगरों के लिए शरण स्थली रहा है शहर में मगरमच्छ निकलना कोई बड़ी बात नहीं है। शिवपुरी में नालों गली मौहल्लों से लेकर घरों तक मगरमच्छों ने अपनी पहुंच बाना रखी है। लेकिन यह सब प्रक्रिया प्रांरभ होती है बारिश के शुरू होते ही। जिस पर न तो आज तक वन विभाग कोई अंकुश लगा पाया है और न ही रेस्क्यू टीम समय पर इन मगरमच्छों को पकड़ पाती है। 

बीते वर्ष वन विभाग की टीम समय पर नहीं पहुंचने को लेकर स्थानीय लोगों ने मगर को पकडक़र सीसीएफ के निवास के बाहर बांध आए थे। जो कि शहर की मीडिया में चर्चा का विषय रहा और वन विभाग के गाल पर तमाचा मारने जैसा रहा। आज फिर कमलागंज में अशोक बेट्री वालों के मकान के पीछे नाले में आज सुबह एक मगर विचरण करता हुआ कॉलोनीवासियों ने देखा तो वहां हडक़ंप पूर्ण स्थिति निर्मित हो गई। 

कई घंटे तक मगर नाले में घूमता रहा कई बार मगर ने नाले से बाहर आने का प्रयास किया लेकिन लोगों ने उस पर पथराव कर दिया तो वह पानी में जाकर छिप गया। इसके बाद पूरी कॉलोनी में दहशत का माहौल बना रहा कुछ देर बाद मगर पानी से सिर बाहर आया तो वहां भगदड़ मच गई। मगर होने की सूचना वन विभाग की टीम को स्थानीय लोगों ने दी लेकिन टीम वहां नहीं पहुंची।

जानकारी के अनुसार कमलागंज में नाला सफाई के बाद उसमें पानी भरा हुआ जिसमेें आज सुबह एक मगर वहां रहने वाले विष्णु मंदिर के पुजारी ने देखा और कॉलोनी के अन्य लोगों को मगर होने की सूचना दी। सूचना पाते ही बड़ी संख्या में कॉलोनी के लोग नाले के किनारे एकत्रित हो गए। 

जहां मगर नाले में बने सीवर लाइन के चेंबर के पास धूप सेक रहा था। बड़ी संख्या में भीड़ को देखकर पानी में विचरण शुरू कर दिया और नाले से बाहर निकलने का कई बार प्रयास किया लेकिन मौजूद भीड़ ने उस पर पथराव कर दिया जिससे वह पानी में जाकर छिप गया। 

कई बार मगर पानी में लुकाछिपी करता रहा था घंटों तक लोग घरों से निकलकर नाले के किनारे पर खड़े रहे काफी समय होने के बाद मगर पानी में समा गया और फिर बाहन नहीं आया था। मगर पानी में होने के कारण लोगों में दहशत बनी रही।  

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।