Friday, June 23, 2017

वार्ड क्रमांक 32 एवं 33 में मनाया गया डॉ. मुखर्जी का बलिदान दिवस

शिवपुरी। शहर के वार्ड क्रमांक 32 एवं 33 में भारतीय जनसंघ के संस्थापक डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी का बलिदान दिवस भाजपा जिला उपाध्यक्ष अशोक खण्डेलवाल के मुख्य आतिथ्य में कमलागंज स्थित गोयल कॉम्पलैक्स में मनाया गया। इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि के रूप में भाजपा नगर महामंत्री एवं वार्ड क्रमांक 32 के पार्षद डॉ. विजय खन्ना उपस्थित थे। सर्वप्रथम डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित किए। इस अवसर पर मुख्य अतिथि भाजपा जिला उपाध्यक्ष अशोक खण्डेलवाल ने डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी के व्यक्तित्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे एक प्रखर राष्ट्रवादी और कट्टर देशभक्त थे। डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी सच्चे अर्थों में मानवता के उपासक और सिद्धांतों के पक्के इंसान थे। 

भारतीय इतिहास में उनकी छवि एक कर्मठ और जुझारू व्यक्तित्व वाले ऐसे इंसान की है, जो अपनी मृत्यु के इतने वर्षों बाद भी अनेक भारतवासियों के आदर्श और पथप्रदर्शक हैं और भाजपा कार्यकर्ताओं से उनके आचार, विचार एवं गुणों को अपने जीवन में उतारने की अपील की है। विशिष्ट अतिथि भाजपा नगर महामंत्री डॉ. विजय खन्ना ने कहा कि डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी को भारतीय शिक्षाविद्, चिंतक, राजनेता और भारतीय जनसंघ के संस्थापक के रूप में जाना जाता है। 

उन्होंने युवाओं से अपील करते हुए कहा कि आज बहुमुखी प्रतिभा के धनी डॉ. मुखर्जी के सिद्धांतों को अपने जीवन में उतारकर काम करने की आवश्यकता है। इस अवसर पर नरेन्द्र बिसौठिया, विपिन खन्ना, बंटी राजौरिया, पूरनदास खन्ना, रामचंद्र प्रजापति, मिथुन शाक्य, नीरज कुमार, विजय नामदेव, कैलाश प्रजापति, राजकुमार, बंटी कुमार सेन, अरूण खन्ना, अंकुश मौर्य, शुभम जाटव, निक्की जाटव, मोनू रजक, शिवचरण (घुर्रा) आदि उपस्थित थे। 

No comments:

Post a Comment

प्रतिक्रियाएं मूल्यवान होतीं हैं क्योंकि वो समाज का असली चेहरा सामने लातीं हैं। अब एक तरफा मीडियागिरी का माहौल खत्म हुआ। संपादक जो चाहे वो जबरन पाठकों को नहीं पढ़ा सकते। शिवपुरी समाचार आपका अपना मंच है, यहां अभिव्यक्ति की आजादी का पूरा अवसर उपलब्ध है। केवल मूक पाठक मत बनिए, सक्रिय साथी बनिए, ताकि अपन सब मिलकर बना पाएं एक अच्छी और सच्ची शिवपुरी। आपकी एक प्रतिक्रिया मुद्दों को नया मोड़ दे सकती है। इसलिए प्रतिक्रिया जरूर दर्ज करें।