Tuesday, June 13, 2017

ज्योतिरादित्य सिंधिया की गिरफ्तारी के विरोध में शहर में 2 सैंकड़ा कांग्रेसियों ने दी गिरफ्तारी

शिवपुरी। आज दोपहर मंदसौर में हुए किसानों की मौत के बाद उनके परिजनों से मिलने जा रहे ज्योतिरादित्य सिंधिया की गिरफ्तारी के विरोध में शिवपुरी में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने अपनी अपनी गिरफ्तारी दी। कांग्रेसीयों ने कहा कि मंदसौर में शिवराज सरकार द्वारा मारे गए निहत्थे किसानो के परिवारजनों से मिलने जा रहे पूर्व केंद्रीय मंत्री श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया जी को तानाशाहीपूर्ण तरीके से शिवराज सरकार ने गिरफ्तार कर लिया है।

उसके विरोध में शिवपुरी जिला कांग्रेस के तत्वाधान में विधायक रामसिंह यादव ,प्रवक्ता जिला कांग्रेस हरवीर सिंह रघुवंशी, इस्माइल खान और इब्राहिम खान, नगर पालिका अध्यक्ष और पार्षदों और निर्वाचित जनप्रतिनिधियों के नेतृत्व में 2 सैकड़ा कांग्रेस के कार्यकताओं ने फिजीकल चौकी और सिटी कोतवाली में अपनी अपनी गिरफ्तारी दी। साथ ही सीएम शिवराज सिंह चौहान के पुतले में जूते मारते हुए पुलते को फूंका। और शिवराज सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। 

कांग्रेसीयों ने नारेबाजी करते हुए कहा कि तानाशाहीपूर्ण शासन की गतिविधियों का विरोध करते हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया को मृतक किसानों से मिलने के जाने देने की मांग की। गिरफ्तारी देने वालों में मुख्य रूप से आईटी सेल के अध्यक्ष कपिल प्रेम सिंह रावत पूर्व युवक कांग्रेस अध्यक्ष विजय शर्मा पार्षद विवेक अग्रवाल ,आकाश शर्मा ,आलोक शुक्ला, अजय गुप्ता राकेश जैन राकेश गुप्ता सफदर बैग मिर्जा अनिल उत्साही योगेंद्र रघुवंशी के एल राय शहर अध्यक्ष सिद्धार्थ लडा , सिद्धार्थ अनिल प्रताप सिंह चौहान अनिल शर्मा अन्नी पालिका अध्यक्ष रविंद्र शिवहरे कांग्रेस कार्यकर्ता अमित शिवहरे एनएसयूआई के अध्यक्ष पुनीत शर्मा राजेंद्र शर्मा कुटीर, माताचरण शर्मा, अजय प्रताप सिंह रुहानी,छोटू रावत बैराड़ और अंन्य कांग्रेसी शामिल थे। 

इस गिरफ्तारी में हांलाकि कांग्रेस के अलग अलग ग्रुप सामने आए। नगर पालिका अध्यक्ष महज गिरफ्तारी देकर तुंरत फरार हो गए। इस गिरफ्तारी के दौरान जनपद पंचायत अध्यक्ष पारम सिंह रावत कही भी दिखाई नहीं दिए। नपा उपाध्यक्ष सबसे लास्ट मेंं गिरफ्तारी देने पहुंच पाए। इसमें कोतवाली में 93 कांग्रेसी और फिजीकल चौकी में 98 कांग्रेसी गिरफ्तार हुए। जिन्हें तत्काल जमानत पर छोड़ दिया गया।