लुटेरी दुल्हन: 1 लाख के जेबर लेकर फरार,पति लगा रहा है न्याय की गुहार

करैरा। आम तौर पर सुनने को मिलता है लुटेरी दुल्हन फला फला सामान लेकर लापता ऐसा ही एक मामला यहां भी प्रकाश में आया है। 1 साल पूर्व पिछोर में हुए लोधी समाज के सम्मेलन में शादी कर 2-3 माह पति के साथ रहकर उक्त महिला अपने पति को मायके जाने का झांसा देकर जेवरात और नगदी लेकर फरार हो गई। पति का आरोप है कि उसकी पत्नी को लडक़ी के पिता ने दूसरी जगह बेच दिया है व उसके जेवरात व नकदी भी रख लिए है।  

जानकारी के अनुसार अमोलपठा निवासी महिला वर्षा रजक की शादी 1 वर्ष पूर्व लोधी समाज के सामूहिक विवाह सम्मेलन में पिछोर में रामचरण पुत्र कल्लू निवासी ग्राम वीरा हाल करैरा से हुई थी। कुछ महीनों तो सब ठीक चला उसके बाद वह मायके जाने का पति को झांसा देकर जेवरात जिसमें गले का हार, मंगलसूत्र, पायल, पुतरिया, करधोनी, एवं 15000 नगदी  लेकर अपने मायके चली गई कुछ दिनों बाद पति रामचरण रजक जब अपनी पत्नी को लेने उसके मायके अमोलपठा गया तो लडक़ी के पिता भैयालाल रजक ने कहां की अभी वह फूफा के यहां गई है अगले महीने आना लेने। 

जब वह दोबारा गांव गया तो लडक़ी का पिता बोला कि वह अभी मामा के यहां गई है एक-आध महीने बाद आएगी। ऐसे ही वह झूठ बोल कर भाग रहा था। फिर जब हमने रिश्तेदारों को इकट्ठा करकर पूछताछ की तो लडक़ी के पिता ने कहा कि मैंने अपनी बेटी का विवाह ग्वालियर में कर दिया है और तुम यहां से जाओ उसके बाद हमने कहां की हमारे जेवर ओर नकदी दो नही तो हम तुम्हारी शिकायत कर देंगे। 

फिर  कहने लगा  कि वह अपने रिश्तेदारी में है वह तुम्हारे साथ रहना नहीं चाहती है कुछ दिन रुको मैं उसको समझा बुझाकर तुम्हारे साथ भेज दूंगा पिछले 6 माह से वह हमें इधर से उधर चक्कर लगवाता रहा। आखिर में बोला कि अगर अब तुम इधर आए तो मैं तुम्हारे हाथ पांव तुड़वा दूंगा और जान से मारने की धमकी दी। जब हमने अपने जेवर व नकदी रकम मांगी तो वह बोला जाओ तुम्हारे पास क्या सबूत है मैं कुछ नहीं दूंगा। तब फरियादी रामचरण को उसके साथ हुई ठगी का एहसास हुआ और उक्त मामले की शिकायत फरियादी एसडीओपी करैरा अनुराग सुजानिया को व खोड़ चौकी प्रभारी को दी गई। 

लेकिन फरियादी कि कहीं भी सुनवाई नहीं हो रही और फरियादी खुद को लुटा पिता महसूस कर रहा है। फरियादी को यह भी शंका है कि उसकी पत्नी वर्षा को कहीं उसके पिता ने बेच तो नही दिया है। या फिर उसके साथ कोई अनहोनी उसके  पिता द्वारा कारित कर दी गई है। इसलिए उक्त मामले को वह छुपा रहा है फरियादी पति रामचरण ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से मामले में शीघ्र कार्रवाई कर न्याय दिलाने की मांग की है।

इनका कहना है
फरियादी का आवेदन आया था अभी जांच शुरू नही हुई है। इस प्रकार की घटना यदि हुई है तो करवाई की जाएगी दोषी पिता पुत्री को बख्शा नही जाएगा। नियमानुसार फरियादी को न्याय दिलाया जाएगा।
हरिशंकर शर्मा, चोंकी प्रभारी खोड़
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.