Tuesday, May 23, 2017

सपेरा गैंग ने दिया था बदरबास लूटकाण्ड को अंजाम, तीनों सपेरे दबौचे

बदरबास। जिले के बदरवास थाना क्षेत्र के अटलपुर बरखेड़ा के पास कुल्हाडी से रांपी लगाकर लूट की घटना को अंजाम देने बाले गिरोह को पुलिस ने महज 8 घण्टे में ही हिरासत में ले लिया है। पुलिस ने उक्त आरोपीयों से लूट में प्रयुक्त सामाग्री सहित नगदी भी बरामद कर ली है। जानकारी के अनुसार बदरवास मे रविवार की  रात्रि में तीन लठेत बदमाशों ने रोड़ पर कुल्हाड़ी लगाकर एक ट्रक को पंचर कर दिया था। इस घटना के बाद जेसे ही ट्रक चालक ने नीचे उतर कर ट्रक के पंचर टायर को बदलने लगे तीनों बदमाश आए और दोनों ट्रकों के चालकों पर ताबडतोड़ लाठीयां बरसाने लगे। 

जिससे जान बचाने ट्रक चालक भागते रहे पर किसी ने उनको शरण देना भी उचित नहीं समझा और ट्रक चालक लगभग आधे घण्टे तक रोड़ पर भागते रहे। तभी ट्रक चालकों ने डायल 100 को कॉल कर पूरा घटनाक्रम  बताया। तब कहीं जाकर पुलिस मौके पर पहुंची। इस पूरे घटनाक्रम ने पुलिस की कार्यप्रणाली पर निशान लगा दिए थे। जिस पर पुलिस ने चुनौती पूर्ण तरीके से लेते हुए मामले को कुछ ही घण्टों में ट्रेस कर लिया। 

घटना के बाद से ही उक्त मामले को लेकर पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार पाण्डे पूरे घटनाक्रम पर नजर बनाए रहे। और तत्काल इन आरोपीयों को दबौचने की कमान एसडीओपी सुजीत भदौरिया को सौंपी। जिस पर सुजीत भदौरिया ने ट्रक चालकों के बताए गए हुलिया के आधार पर तलाश की तो तीनो बदमाश धनराज पुत्र चम्पालाल सपेरा उम्र 35 वर्ष, धर्मेन्द्र पुत्र जय सपेरा उम्र 23 वर्ष और लखन पुत्र गोरखनाथ सपेरा उम्र 26 वर्ष सभी निवासी हाल आमखेड़ा थाना बदरबास मूल निवासी सबाई ताल थाना कबाई पुरा जिला बांरा राजस्थान है। उक्त बदमाश घटना को अंजाम देने के बाद राजस्थान भागने की फिराक में थे। 

इस मामले को 8 घण्टे में ट्रेस करने में सराहनीय भूमिका थाना प्रभारी पीपी मुदगल, उप निरीक्षक हरवीर रघुवंशी, उप निरीक्षक रामेश्वर शर्मा, बीएल दोहरे, राजकुमार रघुंवशी, नत्थाराम राजौरिया, बच्चन सिंह यादव, संदीप कुमार, चरण सिंह, विश्वनाथ सिंह तोमर, माखन सिंह, सोनू रघुवंशी, अख्तर खान, राकेश चौखुटिया, राजबहादुर मीना, दिनेश मुनिया की महत्वपूर्ण भूमिका रही।