Tuesday, May 23, 2017

धरने की धमकी से डरकर कस्टमगेट से गांधी चौक तक की सडक़ का काम फिर शुरू

शिवपुरी। कस्टमगेट से गांधी चौक तक सडक़ निर्र्माण के लिए नगर पालिका अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा के धरने के बाद नगर पालिका ठेकेदार ने आनन फानन में सडक़ निर्माण का काम शुरू किया था। लेकिन 24 घंटे बाद ही उक्त निर्माण कार्य बंद हो गया था। 

जिससे सडक़ खुदार्ई के कारण उस इलाके की हालत और अधिक खराब हो गर्ई थी। पुन: सडक़ निर्माण के लिए नगर पालिका उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने अल्टीमेटम दिया। जिसकी परिणिति स्वरूप उक्त सडक़ का कार्य पुन: शुरू हो गया है। सडक़ निर्र्माण का कार्य मेसर्स शिवम कंस्ट्रेक्शन कंपनी द्वारा किया जा रहा है। 

कस्टमगेट से गांधी चौक तक सडक़ निर्माण के लिए नगर पालिका अध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह और उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने काफी दवाब बनाया था। उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा ने लगभग सवा माह पूर्व सीएमओ रणवीर कुमार को तुरंत सडक़ निर्माण हेतु पत्र भी लिखा था। जिस पर सीएमओ ने उन्हें आश्वस्त किया था कि तीन दिन के भीतर सडक़ निर्माण का कार्र्य शुरू कर दिया जाएगा।

लेकिन एक माह तक जब सडक़ नहीं बनी तो पिछले बुधवार को नपाध्यक्ष और उपाध्यक्ष उस वार्ड के निवासियों के साथ धरने पर बैठ गए। उन्हें मनाने सीएमओ रणवीर कुमार पहुंचे लेकिन नपा उपाध्यक्ष ने उन्हें साफ-साफ कह दिया कि अब आश्वासन से काम नहीं चलेगा और जब तक सडक़ निर्र्माण का कार्र्य शुरू नहीं होगा। तब तक धरना नहीं उठेगा। 

इस धमकी का असर यह हुआ कि ढाई घंटे के भीतर ही सीएमओ ने सडक़ निर्माण का कार्य शुरू कर दिया और ठेकेदार ने सडक़ की खुदार्ई भी प्रारंभ कर दी। जिससे धरना उठ गया। सडक़ खुदाई से उस इलाके की 300-400 मीटर जमीन आधी उखड़ गर्ई। परेशानी तब हुई जब अगले दिन से ठेकेदार ने काम बंद कर दिया।