स्व. जयकिशन शर्मा ने हमेशा लड़ी पत्रकारों के हितों की लड़ाई

शिवपुरी। अल्पायु में मृत्यु को प्राप्त हुए शिवपुरी के वरिष्ठ पत्रकार जयकिशन शर्मा को उनकी सातवीं पुण्यतिथि पर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्र्पित की गई। इस अवसर पर कम्युनिटी हॉल में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में उनके बहुआयामी व्यक्तित्व पर वक्ताओं ने विस्तार से प्रकाश डाला और कहा कि स्व. जयकिशन शर्मा ने हमेशा पत्रकारों के हितों की लड़ाई लड़ी। 

श्रद्धांजलि सभा के बाद उनकी स्मृति में उनके सुपुत्र और उनके पत्रकारिता मिशन को आगे बढ़ा रहे के बी शर्मा लालू ने स्मारिका का विमोचन मंचासीन अतिथियों से कराया। मंचासीन अतिथियों में वरिष्ठ पत्रकार प्रेमनारायण नागर, प्रमोद भार्र्गव, अशोक कोचेटा, आलोक इंदौरिया, संजय बेचैन, नगर पंचायत कोलारस के अध्यक्ष रविन्द्र शिवहरे, ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष रामजी व्यास, नगर पालिका उपाध्यक्ष अन्नी शर्मा और नगर पंचायत बदरवास के उपाध्यक्ष तथा जिला पंचायत अध्यक्ष कमला बैजनाथ सिंह यादव के सुपुत्र रामवीर सिंह यादव शामिल थे। 

श्रद्धांजलि सभा में सबसे पहले स्व. जयकिशन शर्र्मा के चित्र पर अतिथिगणों ने माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि दी। वरिष्ठ पत्रकार प्रेमनारायण नागर ने अपने उदबोधन में कहा कि स्व. जयकिशन शर्मा ने पत्रकारिता क्षेत्र में कभी अपने सिद्धांतों से समझौता नहीं किया और उनकी पत्रकारिता में जूझारू पन अंत तक कायम रहा। वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद भार्गव ने कहा कि भ्रष्टाचार के विरूद्ध संघर्ष करने में स्व. जयकिशन शर्मा हमेशा आगे रहे। 

जिन जमीन घोटालों की चचार्य आज चल रहीं है उनके विरूद्ध सबसे पहले स्व. जयकिशन शर्मा ने आवाज उठाई। उनका 20 साल का पत्रकारिता जीवन हमेशा शिवपुरी के पत्रकारों के लिए मिसाल रहेगा। अल्प शिक्षित होने के बाद भी स्व. शर्मा ने पूर्ण पारंगतता के साथ पत्रकारिता की। वरिष्ठ पत्रकार अशोक कोचेटा ने जयकिशन शर्मा की दो विशेषताओं को रेखांकित करते हुए कहा कि उनकी निडरता का कोई मुकावला नहीं था और उनमें आत्म विश्वास कूट-कूट कर भरा हुआ था। 

जनसंपर्क अधिकारी अनूप भारती ने अपने उदबोधन में कहा कि स्व. शर्मा के निधन को सात साल हो गए हैं। आज भी उनकी पत्रकारिता प्रासांगिक बनी हुई है। वरिष्ठ पत्रकार आलोक इंदौरिया ने कहा कि यह खुशी की बात है स्व. जयकिशन शर्र्मा की पत्रकारिता को पूरी क्षमता के साथ उनके सुपुत्र लालू आगे बढ़ाने में जुटे हुए हैं।

पत्रकार संजय बेचैन ने कहा कि अन्याय के विरूद्ध आवाज उठाना उन्होंने जयकिशन शर्मा से सीखा है। ब्राह्मण समाज के जिलाध्यक्ष रामजी व्यास ने कहा कि स्व. जयकिशन शर्मा समर्पित पत्रकार रहे हैं और अपने लोगों का साथ वह तमाम विरोध सहन करके भी देते रहे हैं। इसलिए आज भी उनकी कमी शिवपुरी की पत्रकारिता में महसूस की जा रही है। 

नगर पंचायत कोलारस के अध्यक्ष रविन्द्र शिवहरे ने उनकी पत्रकारिता को याद करते हुए उन्हें अपनी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। वही जनपद पंचायत बदरवास के उपाध्यक्ष रामवीर सिंह ने उनके असमायिक निधन को शिवपुरी पत्रकारिता की एक बड़ी क्षति बताया। इसके बाद स्व. जयकिशन शर्मा की स्मृति में स्मारिका का विमोचन मंचासीन अतिथियों ने किया। आभार प्रदर्र्शन की रस्म पत्रकार रंजीत गुप्ता ने निर्वाह की। 

जबकि कार्र्यक्रम का संचालन भाजपा नेता भरत अग्रवाल ने किया। कार्र्यक्रम में मंडी उपाध्यक्ष कैलाश कुशवाह, मंगलम के उपाध्यक्ष डॉ. शैलेन्द्र गुप्ता, विपिन शुक्ला मामा, संजीव बांझल, बृजेश तोमर, अशोक अग्रवाल, केके दुबे, अजय खैमरिया, विनय राहुरीकर, अभिषेक शर्मा वट्टे, रिंकू जैन पत्रकार, पूनम पुरोहित, सहित अनेकों लोग मौजूद थे।  
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.