कलेक्टर ने प्रशिक्षण सह आजीविका केन्द्र पोहरी का किया निरीक्षण, 50 हजार पौधें होंगें तैयार

शिवपुरी। जिले के पोहरी विकासखण्ड में स्थित प्रशिक्षण सह-आजीविका केन्द्र की नर्सरी द्वारा 50 हजार पौधे सोजने के तैयार किए जाएगें। उक्त आशय के जानकारी कलेक्टर ओमप्रकाश श्रीवास्तव के पोहरी विकासखण्ड में संचालित प्रशिक्षण सह आजीविका केन्द्र की नर्सरी के निरीक्षण के दौरान दी गई। इस दौरान उन्होंने उत्पादित इकाई की महिलाओं से चर्चा कर जानकारी ली और उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों की सराहना की। 

कलेक्टर श्री श्रीवास्तव ने मध्यप्रदेश दीनदयाल ग्रामीण आजीविका मिशन जिला शिवपुरी द्वारा ग्राम नोन्हेटाखुर्द में स्वसहायता समूह की आदिवासी महिलाओं द्वारा संचालित स्वचालित मशीनो से निर्मित की जा रही सुगन्धित अगरवत्तियो की निर्माण इकाई का, ग्राम सोनीपुरा में सेनेट्ररी नेपकिन पैकिजिंग का कार्य तथा सिलाई केन्द्र का अवलोकन किया। 

इस दौरान म.प्र दीनदयाल ग्रामीण आजीविका मिशन जिला शिवपुरी के जिला परियोजना प्रबधक डॉ0 अरविन्द भार्गव ने आजीविका केन्द्र में उपलब्ध भवन के बारे में एवं खुले स्थान के बारे में जानकारी देते हुए कहा कि खुले स्थान में आजीविका पोषण बाटिका, भू-नाडेप, नाडेप एवं वर्मी कम्पोष्ट के डेमो मोडल बनाये जाते है एवं इस आजीविका केन्द्र से शीघ्र ही ग्रामीण क्षेत्र की 500 महिलाओं को जोड़ा जाएगा, जिससे उनकी आय प्रतिमाह 8 हजार रूपए हो सके। 

उन्होंने बताया कि विभिन्न ग्रामों की स्वसहायता समूहों की 20 महिलाओं द्वारा छात्र-छात्राओं के लिए गणवेश का निर्माण किया जा रहा है। म.प्र दीनदयाल ग्रामीण आजीविका मिशन राज्य इकाई भोपाल के अति0 मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री रमन बाधवा एवं राज्य प्रबंधक श्रीमति गरिमा साई सुन्दरम द्वारा प्रशिक्षण सह-आजीविका केन्द्र का भी भ्रमण किया गया।

सभी उत्पादक इकाईया एवं प्रशिक्षण केन्द्र का अवलोकन कर महिलाओं एवं प्रशिक्षणाथियों से चर्चा की गई तथा व्यवस्था एवं भविष्य की कार्ययोजना पर प्रशंनता व्यक्त की गई । 
Share on Google Plus

About Yuva Bhaskar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.