Wednesday, February 08, 2017

भोपाल में लवमैरिज कर शिवपुरी लौटी अपेक्षा यादव: एसडीएम से कहा है जान से खतरा

शिवपुरी। जिले के इंदार थाना क्षेत्र की निवासी अपेक्षा यादव उम्र 19 वर्ष अपने घर से भागकर अपने लवर विजय यादव के साथ बीते रोज भोपाल कोर्ट में शादी कर ली थी। भोपाल में अपेक्षा के घरवालो द्वारा उसकी किडनेप करने का प्रयास किया किन्तु पुलिस ने इस किडनेपिग को रोका और पूरे मामले को शिवपुरी पुलिस को सुपुर्द कर दिया। शिवपुरी पुलिस ने अपेक्षा को आज एसडीएम कोलारस के यहां पेश किया तो उसने कहा कि मुझे अपने परिजनो से जान का  खतरा है। 

जैसा कि विदित है कि इंदार थाने में अपेक्षा यादव की गुमशुदगी दर्ज है। और उसने अपने प्रेमी विजय यादव के साथ भागकर भोपाल में कोर्ट मैरिज कर ली। जैसे ही उसके घरवालो को उसकी लोकेशन भोपाल में मिली तो वह भी वहां आ गए और भोपाल में भरे बाजार में उसे परिजनो द्वारा किडनेप करने का प्रयास किया लेकिन हंगामा होने के कारण पुलिस पहुंच गई और और चूकि अपेक्षा की गुमशुदगी शिवपुरी पुलिस के पास दर्ज थी इस कारण पूरे मामले को शिवपुरी पुलिस को सुपुर्द कर दिया गया। अब इस मामले की जांच शिवपुरी पुलिस कर रही है। 

इस क्रम में आज अपेक्षा यादव को शिवपुरी पुलिस ने कोलारस एसडीएम के समझ पेश किया गया। जहां अपेक्षा यादव ने एसडीएम से कहा कि मुझे मेरे परिजनो से जान का खतरा है और में बालिग हूॅ मैं अपने प्रेमी के साथ ही रहना चाहती हूॅ। खबर लिखे जाने तक अपेक्षा  पुलिस के पास ही है। इस पूरे मामले में शिवपुरी पुलिस अभी विचार विमर्श कर रही है,चूकि अपेक्षा अब बालिग है और उसे उसकी मर्जी के खिलाफ परिजनो को नही सौपा जा सकता है।

विजय तो शादीशुदा है, एक बच्चे का बाप है 
उधर अपेक्षा के परिजनों का आरोप है कि विजय पहले से शादीशुदा है और उसका एक बेटा भी है। शादीशुदा होने के बावजूद विजय ने दूसरी शादी की है, जबकि पहली पत्नी से उसका तलाक नहीं हुआ है। वहीं परिजनों ने मारपीट और ऑनर किलिंग की प्लानिंग से इंकार किया है। परिजनों के अनुसार 9 फरवरी को अपेक्षा की सगाई होने वाली थी और उसके इस कदम से समाज में उनकी बदनामी हुई है।

पहली पत्नी को नहीं है शादी से ऐतराज
पहली शादी के बारे में पूछे जाने पर विजय ने बताया कि, उसकी पहली पत्नी को अपेक्षा के बारे में सबकुछ पता है। उसे विजय की दूसरी शादी से कोई ऐतराज नहीं है, क्योंकि जल्द ही दोनों को तलाक होने वाला है। उधरए हंगामे की खबर लगते ही विजय के परिजन भी गोविंदपुरा थाने पहुंच गए। विजय के परिजनों का कहना है कि विजय की पहली पत्नी उसे तलाक देना चाहती है और उन्हें भी इस शादी से कोई दिक्कत नहीं है।