Friday, February 03, 2017

वनवासी आदिवासियों ने दिखाई एकता: रैली निकालकर सौंपा ज्ञापन

पोहरी। जिले के पोहरी के आदर्श विद्यालय प्रांगण में दो हजार से अधिक की सं या में वनवासी आदिवासीयों ने वीरवै मानव उत्थान सेवा समिति के बैनर तले एकत्रित होकर रैली निकाली एवं पोहरी अनुविभागीय अधिकारी को मु यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर कई गांवों में व्याप्त समस्याओं के निराकरण के साथ ही योजनाओं का उचित क्रियांवयन कराने की मांग की।

वीरवै समिति के अध्यक्ष अनुराग त्रिवेदी ने जानकारी देते हुए बताया कि समिति सदस्यों के द्वारा दारे माह से पोहरी क्षेत्र के 52 वनवासी ग्रामों में जाकर ग्रामीणों की समस्याओं को जाना एवं षुक्रवार के रोज आदर्ष विद्यालय प्रांगण में दो हजार से अधिक की सं या में आदिवासी बहनों एवं भाईयों के साथ सभा की जिसमें आदिवासियों की समस्याओं को सबके सामने रखा गया। 

इस अवसर पर आदिवासी समाज के सीताराम आदिवासी विजयपुर, गुड्डीबाई आदिवासी पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्योपुर, कमला आदिवासी मण्डी अध्यक्ष पोहरी, महेश आदिवासी पूर्व सरपंच, रमेश आदिवासी, डां तुलाराम , चिरोंजी, नेपाल, परशुराम शर्मा, देवेन्द्र भार्गव आदि अतिथि मौजूद रहे, सभी ने एक सुर में आदिवासियों को अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने, षराब एवं बीडी का सेवन त्यागने का संकल्प दिलाया।

मंच से संबोधित करते हुए डां अनुराग त्रिवेदी ने कहा कि आदिवासियों के हित में सरकार की योजनाऐं तो काफी बनीं हैं परंतु अक्षम प्रशासनिक व्यवस्था के चलते उनका लाभ वनवासियों तक नहीं पहुंचता, हमारे समिति सदस्यों ने 52 गांवों में जाकर लोगों की समस्याओं को जाना जिसमें मूलरूप से क्षुध्द पेयजल, बिजली एवं निवास की समस्या के साथ ही बुजुर्ग एवं बिकलांगों को पेंशन नहीं मिल पा रही है, उन्होने आदिवासियों को शपथ दिलाई कि शराब एवं नशे का त्याग करने के साथ ही अपने बच्चवों को स्कूल भेजकर षिक्षित बनाऐं। 

सभा के बाद सभी अतिथि एवं दो हजार से अधिक आदिवासियों ने रैली निकालकर पोहरी के अनुविभागीय अधिकारी अंकित अस्थाना को मु यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपकर समस्याओं के निराकरण की मांग की साथ ही प्रषासन से योजनाओं के उचित क्रियांवयन की मांग की है।