Tuesday, February 28, 2017

हमारे शिवपुरी में किराने की दुकानों पर पेट्रोल डीजल मिलता है,प्रशासन ने दे रखी है खुली एनओसी

शिवपुरी। शिवपुरी जिले के हाईवे के किनारे दुकानों के बाहर केन और बोतल रखकर खुले आम पेट्रोल और डीजल की बिक्री की जा रही है। इसके अलावा करैरा, पोहरी, कोलारस, बदरवास, पिछोर, सतनबाड़ा, लुकवासा, दिनारा में संचालित गुमटियों और किनारा दुकानों पर भी अवैध तौर पर पेट्रोल दुकानदारों द्वारा खुलेआम बेचा जा रहा है। संबंधित विभाग के अधिकारियों को इसकी जानकारी भी है लेकिन कार्रवाई कभी नहीं करते जिससे हादसे की आशंका बनी रहती है। कार्रवाई नहीं होने से पेट्रोल-डीजल बेचने का अवैध कारोबार करने वाले दुकानदारों के हौसले बुलंद हैं। 

गौरतलब है कि अति ज्वलनशील और विस्फोटक पदार्थ को लेकर प्रशासन अभी भी गंभीर नहीं हुआ है। स्थिति यह है कि वर्तमान में शिवपुरी से जुड़े गांवों सहित गांव-गांव में पेट्रोल की खुले में अवैध रूप से बिक्री हो रही है। लंबे समय से यह कार्य किया जा रहा है। जिससे कभी भी कोई बड़ा हादसा होने का खतरा बना रहता है। वहीं हाइवे से गुजरने वाले राहगीरों को पेट्रोल-डीजल निर्धारित कीमत से अधिक कीमत में बेचा जा रहा है। रास्ते में मिलने वाली किराना और पान, टायर की दुकानों के बाहर पेट्रोल से भरी छोटी-बड़ी केन रखी रहती हैं। 

वहीं कुछ स्थानों में तो दुकान के बाहर कोल्डड्रिंक्स और पानी की बोतल में पेट्रोल भरकर लटका दी जाती हैं। जिससे जरूरतमंद व्यक्ति को मालूम चल सके कि यहां पेट्रोल- डीजल उपलब्ध है। फिर मनमाने दाम लेकर उस व्यक्ति को गोदाम से लाकर पेट्रोल दे दिया जाता है। इसके बाद भी प्रशासन इन अवैध कारोबारियों पर कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। जिले के करैरा के ग्राम, सतनबाड़ा और पोहरी क्षेत्र से लगे  ग्रामीण इलाकों में भी किराना, पान और टायर पंक्चर दुकानों पर बोतल में पेट्रोल और डीजल खुले आम बेचा जा रहा है।

करैरा, पोहरी व बदरवास में सालों से किराने की दुकान व पंक्चर की दुकानों पर अवैध कार्य पेट्रोल बेचने का कार्य किया जा रहा है लेकिन कभी कार्रवाई नहीं की गई है। ऐसे में छोटी सी चूक से बड़ी घटनाओं की आशंका बनी रहती है। खास बात तो यह है कि जिले के कई गांवों में पेट्रोल का अवैध विक्रय सालों से होता चला आ रहा है। इस संबंध में शिवपुरी जिला खाद्य अधकारी का कहना है कि खाद्य विभाग के अधिकारी ऐसे कारोबारियों को पकड़ कर समय-समय पर कार्रवाई करते हैं। अगर खुले आम अवैध रूप से कोई पेट्रोल या डीजल बेच रहा है तो ऐसे कारोबारियों की धरपकड़ कर उसके खिलाफ स त कार्रवाई की जाएगी।