Sunday, January 15, 2017

बडी खबर: नशे में धुत्त डॉक्टर तोमर ने की अस्पताल के कर्मचारी की मारपीट

शिवपुरी। सरकारी आंकडे में प्रदेश का नंबर 1 घोषित शिवपुरी के जिला अस्पताल में कल रात शराब की नशे में धुत डॉक्टरी ने अस्पताल के 1 कर्मचारी की मारपीट करने का मामला प्रकाश में आया है। 

इस घटना की शिकायत पीड़ित डाटा ऑपरेटर मुकेश शर्मा ने कोतवाली सहित प्रभारी सिविल सर्जन और आरएमओ एसएस गुर्जर से की है। हालांकि आरएमओ एसएस गुर्जर का कहना है कि उन्हें ऐसे किसी भी घटनाक्रम की जानकारी नहीं है। 

पीड़ित युवक मुकेश शर्र्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि शाम करीब 7:30 बजे वह ट्रॉमा सेंटर में बैठा था तभी शिवपुरी के अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर सुनील तोमर का फोन आया और कहां की गाड़ी भेज दो। 

मैने कहा गाडी नही है आते से ही भेज दूंगा। फिर डॉक्टर तोमर ने कहा कि ड्रायवर दो चूकि ड्रायवर भी नही था मैने भेजने में असमर्थता जताई इस बात पर डॉक्टर तोमर उखड गए और मेरे साथ फोन पर ही गाली गलौच करने लगे और धमकी देने लगे। 

बाद में कहा  कि तू अभी ट्रॉमा सेंटर में ही रूक मैं अभी आकर तुझे बताता हूं और कुछ देर बाद डॉक्टर तोमर ट्रॉमा सेंटर में आ गए और उन्होंने आते से ही गालियां देते हुए मारपीट  शुरू कर दी उनके मुंह से शराब की दुर्गन्ध भी आ रही थी। 

इस मारपीट के बीच  वाहन का चालक ऊदल धाकड़ बीच बचाव में आया तो डॉक्टर ने उसकी गलेबान पकडक़र मारपीट कर दी। बाद में अन्य लोगों ने बीच बचाव किया और कुछ देर बाद ही वह अपने ड्यूटी रूम में चले गए जहां उसे पुन: डॉक्टर ने अपने चे बर में बुलाया और उसे गालियां दी। 

बाद में उसने आरएमओ गुर्जर और प्रभारी सिविल सर्जन डॉ. पीके खरे को फोन से घटना की जानकारी दी। इसके बाद वह कोतवाली पहुंचा और डॉक्टर के खिलाफ लिखित शिकायती आवेदन देकर अपनी शिकायत दर्ज कराई। 

इनका कहना है
मेरे पास ऐसी कोई भी शिकायत नहीं आई है और न ही मेरे संज्ञान में यह मामला है अगर पीडि़त ऑपरेटर मुझसे लिखित शिकायत करेगा मामले की जांच कराकर दोषी को दण्ड दूंगा। 
एसएस गुर्जर आरएमओ जिला चिकित्सालय शिवपुरी