युवा दिवस पर मंगलम ने एक सैकड़ा से अधिक रक्तदाताओ का किया सम्मान

शिवपुरी। समाजसेवी संस्था मंगलम के बारे में जितना मैंने सुना और जाना है उस आधार पर मैं पूर्ण विश्वास के साथ कह सकता हूं कि यह संस्था सं याबल की दृष्टि से अन्य संस्थाओं की तुलना में भले ही कम हो, लेकिन इसकी गुणात्मक योग्यता का कोई मुकाबला नहीं है।

शिवपुरी शहर के अच्छे प्रतिष्ठित और समाजसेवी लोग इस संस्था से जुडक़र इसे ऊंचाईयों पर ले जा रहे हैं तथा स्वामी विवेकानंद की जयंती पर मंगलम संस्था द्वारा रक्तदाताओं का स मान करना एक अनुकरणीय पहल है। उक्त उद्गार मंगलम संस्था द्वारा अपने वाट्सएप प्रकल्प की पहल पर स्वेच्छा से एक सैकड़ा से अधिक रक्तदाताओं के स मान समारोह में मु य अतिथि की हैसियत से व्यक्त किए। 

कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पोहरी विधायक प्रहलाद भारती ने यह कहने में संकोच नहीं किया कि शिवपुरी की सर्वश्रेष्ठ सामाजिक संस्था मंगलम है। 

विशिष्ट अतिथि की भूमिका का निर्वहन नपाध्यक्ष मुन्नालाल कुशवाह ने किया। मंचासीन अतिथियों में मंगलम के उपाध्यक्ष अशोक कोचेटा, कोषाध्यक्ष दीपक गोयल, मंगलम ब्लड ग्रुप के एडमिन संस्था के संचालक अमित खण्डेलवाल और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कमल मौर्य भी शामिल थे। 

कार्यक्रम के प्रारंभ में कोषाध्यक्ष दीपक गोयल ने बताया कि मंगलम की नई कार्यकारिणी ने अस्तित्व में आने के बाद समाजसेवा के अन्य प्रकल्पों पर जब विचार किया तो यह तय किया गया कि संस्था रक्तदान को प्रोत्साहित करने की पहल करेगी और इस दृष्टि से मंगलम ब्लड नामक वाट्सएप ग्रुप बनाया गया। पिछले छह माह में इस ग्रुप की मदद से एक सैकड़ा से अधिक लोगों ने रक्तदान कर पीडि़त मानवता की सेवा की है। 

मंगलम के संचालक अजय खेमरिया ने अपने उद्बोधन में बताया कि संस्था ने सोशल मीडिया का सकारात्मक उपयोग कर इससे मानवता की सेवा करने वाले जन-जन को जोड़ा है जिसके परिणामस्वरूप यदि किसी पीडि़त को ग्वालियर में भी रक्त की आवश्यकता हुई है और वाट्सएप ग्रुप से जुड़ा डोनर यदि ग्वालियर में है तो उसने अस्पताल पहुंचकर रक्तदान किया है। 

श्री खेमरिया ने अपने उद्बोधन में मंगलम संस्था की विकास गाथा को रेखांकित किया वहीं रक्तदान करने वाले पत्रकार अशोक अग्रवाल ने मंगलम ब्लड ग्रुप की प्रासांगिकता स्पष्ट करते हुए कहा कि जब ग्रुप पर बी पॉजीटिव की आवश्यकता का मैसेज आया और उस मैसेज को पढक़र जब वह रक्तदान करने अस्पताल पहुंचे और रक्तदान के बाद उन्होंने उस वृद्ध मां के दर्शन किए जिन्हें उन्होंने रक्त दिया था तो वह यह देखकर आश्चर्यचकित हो उठे कि बुढ़ापे में तीन-तीन बेटे होने के बाद भी पति-पत्नी अकेले हैं और उन्हें उस वृद्ध मां को रक्तदान देकर इतनी खुशी हुई जिसका वर्णन वह शब्दों में नहीं कर सकते।

समारोह में मुख्य अतिथि पुलिस अधीक्षक पाण्डे ने रक्तदान को सबसे बड़ा दान बताया और कहा कि दो दिन बाद दान की महत्ता बताने वाला त्यौहार मकर संक्रान्ति आ रहा है और दान के महत्व को प्रतिपादित कर संस्था ने आज से ही मकर संक्रान्ति की शुरूआत कर दी है और यह भी खुशी की बात है कि आज ही स्वामी विवेकानंद का जन्मदिवस है जिन्होंने पीडि़त मानवता की सेवा में अपने जीवन को समर्पित किया। 

कार्यक्रम में जहां रक्तदाताओं का सम्मान हुआ वहीं अतिथियों को स्मृति चिन्ह भी भेंट किए गए। इस अवसर पर मंगलम के संचालक डॉ. शैलेन्द्र गुप्ता, हरिओम अग्रवाल, जिनेश जैन, प्रमोद भार्गव, रामकुमार यादव, बृजेश तोमर, सुश्री पूनम पुरोहित, प्रमोद गर्ग, विपिन शुक्ला, अशोक अग्रवाल, रंजीत गुप्ता, विवेकवर्धन शर्मा, यशवंत जैन, अभिषेक शर्मा बट्टे, रिंकू जैन, रोहित मिश्रा, विजय बिंदास, सतेन्द्र उपाध्याय,नीरज श्रीवास्तव,अजयराज सक्सैना,माखन सिंह धाकड़, मोन्टू तोमर, राजकुमार शर्मा, आशुतोष शर्मा आदि उपस्थित थे। आभार प्रदर्शन की रस्म मंगलम के उपाध्यक्ष अशोक कोचेटा ने निर्वाह की जबकि कार्यक्रम का संचालन राजू बाथम ने किया। 
Share on Google Plus

About Bhopal Samachar

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
-----------