शिवपुरी में प्रदेश बंद का आशिंक असर, गली-गली घूमे भाजपाई

शिवपुरी। प्रदेश में बेमौसम बारिश तथा ओलावृष्टि से बर्बाद हुई किसानों की फसल के लिए केन्द्र सरकार द्वारा राहत राशि न दिए जाने के विरोध में भाजपा के प्रदेशव्यापी बंद को शिवपुरी में आंशिक सफलता मिली। बंद के प्रति नागरिकों में खास उत्साह देखने को नहीं मिला।
यही कारण रहा कि जिन-जिन प्रमुख व्यवसायिक क्षेत्रों में भाजपा कार्यकर्ता सक्रिय रहे। वहां के बाजार बंद रहे। बंद का असर खास तौर पर सदर बाजार, माधव चौक, कोर्ट रोड, अस्पताल चौराहा आदि क्षेत्रों में देखने को मिला जबकि पुरानी शिवपुरी, न्यूब्लॉक, झांसी तिराहा, नया बस स्टेण्ड आदि इलाकों में बंद का कोई खास प्रभाव नजर नहीं आया। बंद के दौरान शहर के पैट्रोल पंप बंद रहे।

विदित हो कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ओला पीडि़त किसानों को राहत दिलाने के लिए केन्द्र सरकार से राहत मांगी थी, लेकिन केन्द्र सरकार ने यह राशि नहीं दी और आज प्रदेशभर में भाजपा ने बंद का आव्हान किया और कल भाजपा युवा मोर्चा ने वाहन रैली निकालकर दुकानें बंद करने की दुकानदारों से अपील की थी और आज सुबह 8 बजे माधव चौक पर कुछ कार्यकर्ता पहुंचे और दुकानें बंद कराने का दुकानदारों से अनुरोध किया। इससे कुछ दुकानें बंद रहीं जबकि कुछ खुलने लगीं। 10 बजे के आसपास धीरे-धीरे कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगने लगा और भाजपा नेताओं ने एकत्रित होकर बाजारों में घूमकर दुकानें बंद करानी शुरू कर दीं।

भाजपा ने दोपहर 2 बजे तक बंद आयोजित कराने का निर्णय लिया था, लेकिन दोपहर 12 बजे के बाद भाजपा कार्यकर्ता बाजारों से गायब हो गए। इस कारण बाजार समय से पूर्व ही खुलना शुरू हो गए। बाजार बंद कराने के लिए भाजपा जिलाध्यक्ष रणवीर सिंह रावत, पूर्व विधायक माखनलाल राठौर, पूर्व नगर मण्डल अध्यक्ष अनुराग अष्ठाना, ओमी जैन, पूर्व विधायक देवेन्द्र जैन, भाजपा के नगर महामंत्री हरिओम राठौर बतासे वाले, नागरिक बैंक के अध्यक्ष एवं जनभागीदारी अध्यक्ष अजय खेमरिया, पार्षद अजय भार्गव, अमित भार्गव, सागर सोनी, नरेन्द्र दुबे, गब्बर सिंह परिहार, जण्डेल सिंह गुर्जर, भाजपा कार्यालय मंत्री हरिओम नरवरिया काका सहित अनेकों भाजपा कार्यकर्ता मौजूद थे।

खुली रही मेडीकल की दुकानें, पेट्रोल पंप रहे बंद

बंद के व्यापक असर का प्रभाव मेडीकल क्षेत्र से जुड़े संस्थानों पर नजर नहीं आया, यहां अधिकांशत: पूरे बाजार में मेडीकल की दुकानें खुली रही। वहीं दूसरी ओर पेट्रोल पंप बंद होने से लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। यहां भाजपाईयों ने गुरूद्वारा स्थित पेट्रोल पंप जो खुला हुआ था उसे भी बंद कराकर अन्य लोगों की परेशानियों को बढ़ाने का काम किया जबकि अन्य सभी पेट्रोल पंप इस बंद में शामिल रहे जिन्होंने स्वेच्छा से पंप बंद रखें।

नहीं आए लोकसभा प्रभारी नरेन्द्र बिरथरे

यूं तो प्रदेश सरकार द्वारा बंद को सफल बनाने के लिए हरेक भाजपा कार्यकर्ता रोड़ पर आकर बंद को सफल बनाने की अपील कर रहा था लेकिन एक ओर जहां भाजपा जिलाध्यक्ष रणवीर रावत, ओमी जैन सहित अन्य भाजपा नेता इस बंद को बंद कराने के लिए गली-गली घूम रहे थे तो वहीं दूसरी ओर लोकसभा चुनाव के लिए गुना शिवपुरी लोकसभा क्षेत्र के भाजपा प्रभारी नरेन्द्र बिरथरे बंद के दौरान कार्यकर्ताओं के बीच नजर नहीं आए। भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनकी अनुपस्थिति के विषय में अलग-अलग कारण बताए। कुछ कार्यकर्ताओं का कहना था कि बीमारी के कारण वह बंद में शामिल नहीं हुए। जबकि कुछ अन्य कार्यकर्ता उनकी अनुपस्थिति पर मुस्कुराकर रहस्य को बढ़ाते देखे गए।

अंचल में दिखा बंद का असर

भाजपा का प्रदेश बंद का असर जिले सहित तहसीलों में भी देखने को मिला जहां करैरा कस्बे में भाजपाई बाजार पूर्ण रूप से बंद नहीं करा पाए और बंद का असर आंशिक रहा। वहीं पोहरी और खनियांधाना में बंद सफल रहा सुबह 9 बजे से ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने दुकानदारों से दुकानें बंद रखने की अपील की और दुकानदारों ने भाजपाईयों की अपील पर अपने-अपने प्रतिष्ठान बंद रखे। पोहरी में मण्डल अध्यक्ष पृथ्वीराज सिंह जादौन, हरिशंकर धाकड़, दिनेश सिंघल, मोहन उपाध्याय, जमील अंसारी, विसंभर शर्मा, लल्ला छर्च, शुभम शर्मा, भारतचरण, देवेन्द्र वर्मा, राकेश गोयल, प्रकाश धाकड़ ने बंद कराया।

Share on Google Plus

About KumarAshish BlogManager

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------