लापता बिनोद का नहीं लगा सुराग

पिछोर। अनुभाग के ग्राम मादौन का एक परिवार अपने मुखिया की तलाश में माह भर से भटक रहा है। परिजनों ने पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज करते हुए अपहरण की आशंका ब्यक्त की है।

मादौनकला में रहने वाले लापता बिनोद कुमार पुत्र अपरवल अहिरवार की पत्नी विद्यावाई ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराते हुए बताया कि 19 फरवरी को उसका पति बिनोद खेत पर काम करने रात में गया  हुआ था। इसके बाद वह सुबह तक बापस नहीं आया तो परिजनों ने खेत पर जाकर देखा तो कहीं उसके कपडे और कहीं उसकी चप्पलें पडी मिलीं, साथ ही पूरी फसल को किसी ने उजाड़ दिया। परिजनों ने आसपास के कई ग्रामों एवं रिश्तेदारी में उसकी तलाश की परन्तु कोई सुराग नहीं मिला। 

विनोद की पत्नी विद्या और साले इन्दरसिंह एवं पिता अपरवलसिंह ने पुलिस से गुहार लगाते हुये बताया कि तीन बच्चों सहित पूरे परिवार का एक मात्र कर्ता धर्ता बिनोद ही है। जबकि घटना के पूर्व दो अपरिचित व्यक्ति घर पर आये थे, जिससे बिनोद की एकांत में चर्चा भी हुई थी। साथ ही लापता बिनोद की बहन को हिस्सा ना देने पर भी बिवाद चल रहा था। ऐसे कई कारण हैं जिससे बिनोद का लापता न होकर अपहरण होना लगता है। विद्या देवी ने पिछोर पुलिस पर आरोप लगाते हुये बताया कि पुलिस इस मामले में केवल औपचारिकता ही कर रही है और ऐसा ना हो कि पुलिस की लेट लतीफी मेरे पति के खोने का कारण बन जाये। पुलिस तलाश करने की बजाय उल्टे हमें ही बंद करने व केश कायम करने की धमकी देती है।

इनका कहना है
 मैं अभी स्थानांतरित होकर आया हूॅ। मुझे इस मामले की जानकारी नहीं है। मामले में गुमशुदगी कायम है जिस पर जांच जारी है। मामले में विस्तृत जानकारी लेकर कार्यवाही की जाएगी।
कैलाशबाबू आर्य
टीआई पिछोर

Share on Google Plus

About KumarAshish BlogManager

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------