शिवपुरी के युवक को उठा ले गई गोरखपुर पुलिस

शिवपुरी। शहर के बड़ौदी क्षेत्र में टायरों की दुकान संचालित करने वाले सिद्दीक खां को गत दिवस गोरखपुर पुलिस ने एक लूट की वारदात को लेकर उठाया है पुलिस का मानना है कि अभी इस मामले में और कई रसूखदार लोग शामिल है जिनके बारे में पूछताछ में पता चलेगा।

हालांकि पुलिस इस मामले में स्पष्ट रूप से किसी का भी नाम लेने से बच रही है लेकिन लूट के दौरान बंधक बनाए गए ड्रायवर और क्लीनर की रिपोर्ट पर यह कार्यवाही की गई इसे जरूर स्वीकारा गया है। बताया जाता है कि अभी कोलारस और शिवपुरी के कई लोगों से इस मामले में पूछताछ होना तय है इसके लिए शीघ्र ही गोरखपुर थाना पुलिस की टीम शिवपुरी आने वाली है। लगभग 35 लाख रूपये के इस ट्रक टायर लूटकाण्ड से कई लोग हैरत में है तो वहीं पुलिस भी इस मामले को बड़ा गं ाीर मान रही है पुलिस का मानना है कि जिन पीलीभत और शिवपुरी के जिन युवकों को उन्हेांने पकड़ा है उसमें शहर के ही कई रसूखदार भी शामिल हो सकते है इसलिए पुलिस एक-एक कदम फूंक-फूंककर रख रही है।

बताना होगा कि 18 दिस बर को जबलपुर के गोरखपुर थाना क्षेत्र में हुई 35 लाख की ट्रक लूट के मामले में निरंतर नई-नई परतें खुलती जा रही हैं। जबलपुर पुलिस इस मामले में शिवपुरी से एक आरोपी को गिर तार कर ले गई थी जबकि दो अन्य आरोपी भी गिर तार किए गए हैं। आरोपियों से हुई पूछताछ में शिवपुरी और कोलारस के कई रसूखदार व्यक्तियों की संलिप्तता भी मामले में उजागर हुई है। सूत्र बताते हैं कि शीघ्र ही जबलपुर पुलिस इस मामले में आगे जांच के लिए शिवपुरी आएगी। विदित हो कि ग्वालियर से जबलपुर के लिए चले टायरों से भरे ट्रक को आरोपियों ने लूट लिया था। 

लूट की घटना कर वारदात को दिया था अंजाम
इस मामले में 18 जनवरी को पुलिस ने पूछताछ के लिए पुरानी शिवपुरी सिपाहीअन मोहल्ला सहित कमलागंज क्षेत्र से कुछ लोगों को उठाया था। जिसमें बड़ौदी पर टायरों की दुकान संचालक करने वाले सिद्धीक खां को गिर तार कर लिया है। वहीं उत्तरांचल के पीलीभीत से भी दो आरोपियों को गिर तार किया है। गोरखपुर थाना टीआई विजयकुमार पुंज ने मोबाइल पर हुई बातचीत के दौरान बताया कि विगत 18 दिस बर को जेके टायर बिडला कंपनी के टायरों से भरा एक ट्रक ग्वालियर से जबलपुर आ रहा था। तभी इस ट्रक को गोरखपुर थाना क्षेत्र में अज्ञात लुटेरों ने ट्रक को लूट लिया था और ट्रक स्टॉफ प्रमोद साहू पुत्र गोकुल साहू निवासी देवताल चौबे का अखाड़ा तथा क्लीनर अरविंद राजपूत की मारपीट कर दोनों के हाथ-पैर बांधकर जंगल में फेंक दिया था और ट्रक में भरे 35 लाख की कीमत के टायरों को लूटकर भाग गए थे। इस मामले में गोरखपुर पुलिस ने धारा 394, 442 भादवि के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की।

पूछताछ में सामने आया शिवपुरी का नाम
पुलिस पूछताछ में शिवपुरी का नाम सामने आया जिसमें उत्तरांचल प्रदेश के पीलीभीत के लोगों के नाम भी सामने आए और उनकी गिर तार की गई। उसके बाद जब पूछताछ हुई तो उसमें शिवपुरी के सिद्धीक खांन का हाथ होना पाया और उसकी गिर तारी के बाद स ती से पूछताछ की गई तो उसने शिवपुरी और कोलारस क्षेत्र के प्रभावशाली लोगों के नाम बताएं हैं। जिसकी जांच के लिए जबलपुर पुलिस शीघ्र ही शिवपुरी आ रही है। अभी तक इस पूरे मामले में तीन गिर तारियां कर ली गई हैं और लूट का मामल भी जल्द ही बरामद करने की उ मीद पुलिस जता रही है।

इनका कहना है-
मामला बहुत ही संगीन है और जो गिरोह है वह बहुत बड़ा है और इस गिरोह के सदस्य काफी प्रभावशाली हैं। पुलिस हर तरह से मामले की खोजबीन कर रही है और जिन लोगों की गिर तारियां हुई हैं उनसे पूछताछ में जिन लोगों के नाम सामने आए हैं। उनकी गिर तारी और लूट का माल बरामद करने के बाद ही पूरे मामले का पर्दाफाश किया जाएगा। साथ ही अन्य आरोपियों की गिर तारी के बाद धारा 395 और डकैती की धाराएं भी बढ़ाई जाएंगी।
हरिनारायण चारी मिश्र
एस.पी., जबलपुर


Share on Google Plus

About KumarAshish BlogManager

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------