क्षत्रिय महिला मोर्चा ने सादगी से मनाया दशहरा मिलन समारोह

शिवपुरी-बुराई पर अच्छाई और असत्य पर सत्य की जीत के पर्व दशहरा को अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा महिला मोर्चा की जिलाध्यक्ष श्रीमती रंजना सिंह चौहान व संरक्षक श्रीमती सुमन कुशवाह के साथ संयुक्त रूप से क्षत्रिय महिला मोर्चा द्वारा इस बार सादगी के साथ दशहरा मिलन समारोह स्थानीय होटल सुख सागर में आयोजित किया गया। जहां इस समारोह में महिला मोर्चा की सैकड़ों पदाधिकारी व सदस्यों ने पहुंचकर आयोजन को सफल बनाया। वहीं क्षत्रिय समाज में हुई कुछ असामायिक शोक संतृप्त परिवारों को शांति प्रदान करने के लिए दो मिनिट का मौन धारण कर ईश्वर से प्रार्थना की गई।
इस अवसर पर अपने विचार रखते हुए जिलाध्यक्ष श्रीमती रंजना सिंह चौहान ने कहा कि दशहरा पर्व हमें हमेशा सत्य की ओर मार्ग प्रशस्त करता है जिस प्रकार से भगवान श्रीराम ने अपने आदर्शों और मर्यादा का पालन किया और सबके कल्याण की सोच के साथ अपने कार्यों को किया। ऐसी ही सीख हमें अपने आचरण में उतारनी होगी तभी हम क्षत्रियों के कर्तव्य का निर्वहन होगा क्योंकि क्षत्रियों का कर्तव्य है कि वह हर वर्ग के कल्याण की सोच रखता है और इसके लिए कई तरह की योजनाऐं व कार्य कर सभी को अपना संरक्षण प्रदान करता है। जिलाध्यक्ष के इन विचारों को सुनकर सभी महिलाओं ने तालियां बजाकर अभिवादन दिया। कार्यक्रम में मौजूद श्रीमती सुमन कुशवाह ने भी क्षत्रिय महिलाओं से महिला शक्ति संगठित होने का आह्वïान किया और बताया कि महिलाऐं आज हर वर्ग में आगे है लेकिन इसके लिए हमें अपनी शक्ति का निर्वहन ईमानदारी एवं कर्तव्यनिष्ठा के साथ करना होगा तब हम भी एक आदर्श नारी के रूप में सामने आ सकेंगी।
इस अवसर पर अन्य महिलाओं ने भी अपने-अपने विचार रखते हुए दशहरा मिलन समारोह के महत्व पर प्रकाश डाला। इस समारोह में श्रीमती सपना परिहार, आराधना पुण्ढीर, ममता राठौड, रमा कुशवाह, आशा चौहान, सरोज कुशवाह, मधु राठौड, मुन्नी चौहान, सरिता चौहान, अदिति राठौड, रतन राठौड, मालवी कुशवाह, नीता कुशवाह, संध्या भदौरिया, मीरा कुशवाह, केशकली चौहान आदि सहित सैकड़ों महिला मोर्चा पदाधिकारी व सदस्यगण मौजूद थी। अंत में आगामी बैठक 6 नवम्बर 2011 को सायं: 4:00 बजे स्थानीय होटल सुखसागर में आयोजित किए जाने की घोषणा की गई।
Share on Google Plus

About KumarAshish BlogManager

This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.

0 comments:

-----------